लखनऊ के ये 88 गांव होंगे हाईटेक, मिलेंगी नगर निगम की सुविधाएं

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में नगर निगम की सीमा में शामिल हुए 88 गांवों में जल्द ही नगरीय सुविधाएं मिलने लगेंगी। इन गांवों का नगर निगम ने अधिग्रहण करना शुरू कर दिया है। इसके लिए सड़क-नाली समेत जरूरी सुविधाएं देने की तैयारी कर ली गई है। इसके लिए राज्य वित्त आयोग से अतिरिक्त धन की मांग की जाएगी।

बता दें कि नगर विकास विभाग ने इन 88 गांवों को शहरी सीमा में शामिल करने के लिए नोटिसफिकेशन जारी कर दिया था लेकिन पंचायती राज विभाग से डी-नोटिफिकेशन जारी न होने से यह गांव अधर में थे। अब पंचायतीराज विभाग ने पत्र जारी कर कहा है कि एक नवम्बर से 88 गांव नगर निगम के हवाले रहेंगे। इसी पत्र को आधार मानकर नगर निगम ने अधिग्रहण की कवायद शुरू कर दी।

Gyan Dairy

इन 88 गांवों में सरकारी जमीनों को खंगालने का काम शुरू हो गया है। तहसीलों से अभिलेखों को कब्जे में लिया जा रहा है। नगर निगम की तहसीलदार सविता शुक्ला ने कहा कि सरकारी जमीनों को बाड़ लगाकर सुरक्षित किया जाएगा। जिन जमीनों पर कब्जा होगा उसे खाली कराया जाएगा। अभिलेखों के आधार पर जमीनों को चिह्नित करने का काम शुरू कर दिया गया है।

Share