उन्नाव दुष्कर्म केस: सड़क हादसे में घायल पीड़िता के वकील का निधन, कुलदीप सिंह सेंगर को दिलाई सजा

लखनऊ। उन्नाव के बहुचर्चित माखी कांड में पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ केस लड़ने वाले पीड़िता के वकील महेंद्र सिंह का आज यानी सोमवार को माखी गांव में निधन हो गया। बता दें कि महेन्द्र सिंह 28 जुलाई 2019 को पीड़िता की कार लेकर रायबरेली जा रहे थे। इसी दौरान गुरुबख्शगंज थाना क्षेत्र में ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मार दी थी। हादसे में गंभीर रूप से घायल महेन्द्र का 16 महीने से इलाज चल रहा। सोमवार की सुबह उन्होंने माखी गांव में अंतिम सांस ली।

बता दें कि इस हादसे में पीड़िता व उसके वकील महेंद्र सिंह घायल हो गए थे जबकि चाची व मौसी की मौत हो गई थी। सभी रायबरेली जेल में बंद चाचा से मिलने जा रहे थे। पीड़िता व वकील का इलाज चल रहा था। पीड़िता की हालत में तो सुधार हो गया था पर महेंद्र का डॉक्टरों ने घर पर ही इलाज किए जाने की राय दी थी। जिस पर उन्हें घर ले आया गया था। सोमवार को वकील महेंद्र ने भी घर पर दम तोड़ दिया। उनके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

उन्नाव के माखी के चर्चित दुष्कर्म कांड में आरोपित पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ अधिवक्ता महेंद्र सिंह ने अदालत में केस की पैरवी शुरू की थी। इस दौरान 28 अगस्त 2019 को पीड़िता रायबरेली चाचा से मिलने कार से जा रही थी। कार में उनके साथ अधिवक्ता महेंद्र सिंह, चाची और मौसी भी सवार थे।

Gyan Dairy

रायबरेली के पास ट्रक ने कार में सामने से टक्कर मार दी थी। कार में सवार चाची और मौसी की मौत हो गई थी, जबकि पीड़िता और अधिवक्ता गंभीर रूप से जख्मी हो गए था। घायल अधिवक्ता का लंबे समय तक उपचार चला था। कुछ दिन पहले उन्हें घर भेज दिया गया था। अचानक हलात बिगड़ने पर अधिवक्ता महेंद्र सिंह को फिर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

Share