UP: अखिलेश यादव बोले- अपनी भाषा को संयमित रखें सीएम योगी, जानें वजह

लखनऊ। यूपी में चुनावी माहौल बनने लगा है। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने शनिवार को पूर्व सांसद राजपाल सैनी, काजल निषाद, तूफानी निषाद, महामंडलेश्वर सत्या नंद गिरी को पार्टी की सदस्यता दिलाई। इसके अखिलेश यादव ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर जमकर निशाना साधा। अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री किसी और भाषा को जानते हैं, उनके कानों तक किसानों की भाषा नहीं पहुंचती।

अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री को भाषा पर संतुलन रखने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि कल मैंने उनका इंटरव्यू सुना। हमारा आपका मुद्दों पर झगड़ा हो सकता है। हालांकि, मुख्यमंत्री अपनी भाषा पर संयम रखें अगर वो मेरे पिता जी को कुछ कहेंगे तो मैं भी उनके बारे में कुछ कह सकता हूं। मुख्यमंत्री मेरे पिता जी के बारे में ऐसी भाषा का इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं? मुख्यमंत्री को अपनी भाषा पे संतुलन रखना चाहिये। मेरे पिता जी के बारे में कहेंगे तो अपने पिता के बारे में भी सुनने के लिये तैयार रहें।

Gyan Dairy

बता दें कि , शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच जमकर शब्दबाण चले थे। अखिलेश यादव ने खुद को बीजेपी के नेताओं से बड़ा हिंदू बताया तो सीएम योगी ने राममंदिर के बहाने उनपर निशाना साधा था। सीएम योगी ने तंज कसते हुए कहा कि उनके अब्बाजान (मुलायम सिंह यादव) कहते थे कि वहां (अयोध्या में) परिंदे को भी पर नहीं मारने देंगे, लेकिन अब वहां राम मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है। अखिलेश के 400 सीटें जीतने के दावे पर योगी ने चुटकी लेते हए कहा कि मैं तो हैरान हूं। उन्होंने 500 सीट क्यों नहीं बोला।

Share