यूपी: बीआरडी मेडिकल कालेज में मिला मरीज का क्षत विक्षत शव, जिंदा ही कुत्तों ने बनाया निवाला

गोरखपुर। यूपी के गोरखपुर का बीआरडी मेडिकल कालेज एक बार फिर सुर्खियों में हैं। आज यानी शनिवार की सुबह यहां एक मरीज की क्षत विक्षत लाश पड़ी मिली। शव की नाक, कान और सिर का आधा हिस्‍सा गायब है। माना जा रहा है कि टॉयलेट की खिड़की से गिरकर मरीज की मौत हुई है। इसके बाद अस्पताल परिसर में मौजूद कुत्‍तों ने उसके शरीर को नोंच डाला।

बताया जा रहा है कि 32 साल के संजय नामक मरीज को पेट में दर्द की शिकायत पर 16 मार्च को बीआरडी मेडिकल कालेज के मेडिसिन वार्ड में भर्ती हुआ था। वार्ड नंबर नौ की दूसरी मंजिल पर बेड नंबर 21 पर उसका इलाज चल रहा था। संजय गोरखपुर के राजेंद्र नगर के पश्चिमी तुराबाड़ी क्षेत्र का रहने वाला था। मेडिकल कालेज में संजय की देखरेख के लिए उसकी मां यशोदा देवी भी रुकी हुई थीं। शुक्रवार की रात परिवार के अन्‍य सदस्‍य मिलकर घर चले गए थे। यशोदा देवी ने बताया कि शनिवार सुबह चार बजे के करीब संजय ने बेचैनी की शिकायत की। उसने पानी मांगा तो मां ने पानी दिया। इसके बाद उसने टॉयलेट जाने की इच्‍छा जताई। संजय टॉयलेट चला गया लेकिन काफी देर तक वापस नहीं लौटा तो मां को उसकी चिंता होने लगी। मां उसकी तलाश करते-करते नीचे आईं तो लोगों ने बताया कि वह फर्श पर गिरा हुआ है।

Gyan Dairy

संजय जिस टॉयलेट को इस्‍तेमाल करने गया था उसकी खिड़की में जाली नहीं है। सुबह टॉयलेट की खिड़की खुली मिली। माना जा रहा है संजय खिड़की से गिरकर मर गया होगा। कुछ लोगों का कहना है कि वहां कई कुत्‍ते उसके शरीर को नोंच रहे थे। लोगों ने किसी तरह कुत्तों को भगाया। भगाने वालों पर भी कुत्ते हमलावर हो रहे थे। बीआरडी मेडिकल कालेज के डॉक्‍टरों का कहना है कि उन्‍होंने संजय को अकेले छोड़ने से मना किया था। संजय पेट दर्द के साथ बार-बार बेचैनी की भी शिकायत कर रहा था। जांच में पेट में इंफेक्शन मिला था। डॉक्टरों ने परिवार से कहा था कि संजय को अकेला न छोड़ें।

Share