blog

सीतापुर : ट्रिपल मर्डर की वारदात CCTV में हुई कैद, कारोबारी, पत्नी और बेटे की गोली मारकर हत्या

Spread the love

60 साल के कारोबारी सुनील जायसवाल अपनी दुकान से रुपयों से भरा एक बैग लेकर घर लौटे थे. उनका 25 साल का बेटा पार्किंग में मोटरसाइकिल खड़ा कर रहा था. तभी फायरिंग शुरू हो गई.

बीच-बचाव के लिए एक पड़ोसी पहुंचा तो अपराधियों ने उसे भी गोली मार दी, लेकिन उसकी जान बच गई और उसने पुलिस को जानकारी दी. जानकारी मिलने के बाद रात में ही लखनऊ से आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं, लेकिन अपराधियों का अब तक कोई सुराग नहीं है.

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के कानून राज के तमाम दावों के बीच अपराधी बेखौफ होकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. ताजा मामला यूपी के सीतापुर का है. जहां मंगलवार देर शाम एक कारोबारी, उसकी पत्नी और बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बताया जा रहा है कि 60 साल के कारोबारी सुनील जायसवाल अपनी दुकान से रुपयों से भरा एक बैग लेकर घर लौटे थे. उनका 25 साल का बेटा पार्किंग में मोटरसाइकिल खड़ा कर रहा था. तभी बाइक सवार तीन बदमाश वहां पहुंचे और अंधाधुंध फ़ायरिंग शुरू कर दी. फ़ायरिंग की आवाज़ सुनकर कारोबारी की पत्नी घर से निकलीं तो अपराधियों ने उन्हें भी गोलियों से छलनी कर दिया. पूरी घटना का सीसीटीवी फुटेज जारी हुआ है.

इलाहाबाद के पॉश इलाके में एक ठेकेदार की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. सिविल लाइन थाना क्षेत्र के सरोजनी नायडू मार्ग पर एजी ऑफिस के सामने यह घटना घटी. धीरज सिंह (36) को उस समय गोली मारी गई जब वह एक रेस्टोरेंट से खाना पैक कराने के बाद अपनी कार में वापस बैठ रहे थे. धीरज देर रात 11 बजे अपनी पत्नी के साथ अपनी लग्ज़री गाड़ी से सिविल लाइंस इलाके में पुलिस हेडक्वार्टर के ठीक सामने खाना लेने आए थे. जैसे ही होटल से खाना लेकर गाड़ी से वापस लौटने जा ही रहे थे तभी घात लगाए बाइक सवार दो अज्ञात हमलावरों ने कार पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर धीरज और उनकी पत्नी को गोली मार दी, जिसमें धीरज को दो गोली लगीं. धीरज की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उनकी पत्नी अनू को गोली कंधे पर छूकर निकल गई, जिससे वह घायल हो गईं.

You might also like