UP- कासगंज में पांच लोगों को घरेकर बरसाई गोलियां, तीन की मौत, दो जख्मी

लखनऊ। यूपी के कासगंज से एक दिल दहलाने वाली खबर सामने आ रही है। यहां के होडलपुर गांव में बीती रात दबंगों ने प्रधान के परिवार के लोगों को घेर कर गोलियों की बौझार कर दी। फायरिंग में तीन लोगों की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को अलीगढ़ भेजा गया है। वारदात के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस के पहुंचने पर शव नहीं उठाने दिया। जिलाधिकारी सीपी सिंह भी मौके पर पहुंच गए। ​काफी समझाने बुझाने पर ग्रामीणों ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। फिलहाल पुलिस ने गांव के सात लोगों को हिरासत में लिया है।

पुलिस के मुताबिक तीर्थनगरी सोरों के समीपवर्ती गांव होडलपुर गांव की ग्रामप्रधान सत्यवती के ससुर राजपाल उर्फ बाबा पूर्व प्रधान हैं। गांव के बाहर उनकी बिल्डिंग मैटेरियल की दुकान है। रविवार की रात उनका बेटा भूपेंद्र उर्फ रुद्र (25) भाई प्रेम सिंह (55) और उनका बेटा राधाचरन (27) दूसरा भाई प्रमोद और परिवार के ही गुड्डू दुकान से घर लौट रहे थे। इसी दौरान करीब 20 लोगों ने उन्हें बिजलीघर के पास घेर कर फायरिंग शुरू कर दी। इससे पांच लोगों को गोली लग गई। इसमें भूपेंद्र, प्रेम सिंह राधाचरन की मौके पर ही मौत हो गई और प्रमोद व गुड्डू घायल हो गए। दोनों को उपचार के लिए अलीगढ़ भेजा गया है।
घटना से पूरे गांव में दहशत फैल गई। ग्रामीणों ने बताया कि करीब 40 से 50 राउंड फायरिंग हुई। आरोपी वारदात को अंजाम देकर भाग गए। जानकारी पर एसपी सुशील घुले, एएसपी आदित्य वर्मा सहित अन्य अधिकारी व पुलिसबल मौके पर पहुंच गया।
ग्रामीणों ने बताया कि पूर्व प्रधान राजपाल उर्फ बाबा की गांव के ही डा. केके राजपूत से पुरानी रंजिश है। दो दशक पहले डा. केके के परिवार में किसी की हत्या की गई थी। इसमें पूर्व प्रधान जेल गए थे। इसके अलावा पिछले वर्ष गांव में एक जुलाई को ऑनर किलिंग की घटना हो गई थी। इस मामले को लेकर पूर्व प्रधान और डॉ. केके राजपूत के परिवारों में तल्खियां और बढ़ गईं थीं। इसी के चलते केके राजपूत के पक्ष ने घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने केके राजपूत के पक्ष से सात लोगों को हिरासत में ले लिया है।

Gyan Dairy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share