पंचायत चुनावः यूपी में इस बार ये लोग नहीं लड़ सकेंगे ग्राम प्रधान और बीडीसी का चुनाव

बदायूं। यूपी में होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर अधिकारी काफी सक्रिय नजर आ रहे हैं। बदायूं में जिलाधिकारी ने एक बैठक में बताया कि इस बार जिन ग्राम प्रधानों, बीडीसी मेंबर, वार्ड सभासद, जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य पर सरकारी बकाएदारी बाकी होंगी, वह चुनाव नहीं लड़ सकेगे। अगर वे चुनाव लड़ना चाहते हैं तो इसके लिए उन्हें जल्द से जल्द बकाये धनराशि का भुगतान करना होंगा। इस बार बकायेदारी चुनाव के रास्ते में बाधा बन सकती है। कलक्ट्रेट सभागार में डीएम कुमार प्रशांत ने सीडीओ निशा अनंत व बीडीओ एवं संबधित अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक कर सामुदायिक शौचालयों एवं पंचायत भवनों का निर्माण कार्य चल रहा है उसे प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण कराने की बात कही।

जिन ग्राम पंचायतों में ओवरहेड टैंक से पेयजल की आपूर्ति की जाती है, वहां प्रति कनेक्शन हर महीने वसूली की जाये। इसके लिए रसीदबुक भी छपवा ली जाए, जहां पंप ऑपरेटर नहीं हैं, वहां पंप ऑपरेटर भी रखे जाए। मनरेगा के तहत ग्राम पंचायतों में खोदे गए तालाबों में मत्स्य पालन किया जाये। कहीं अवैध अतिक्रमण नहीं होना चाहिए। मनरेगा के कार्य में अधिक से अधिक महिलाओं की भागीदारी रहे।

Gyan Dairy

पंचायतीराज विभाग द्वारा तैयार इस प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार पंचायतों के पुर्नगठन का काम 22 दिसम्बर से 31 दिसम्बर के बीच चलेगा। विभाग के अधिकारी सीएम आवास पर इस प्रस्तुतीकरण को लेकर गये थे। राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारी भी मौजूद थे। मगर सीएम की अन्य बैठकों में व्यस्तता के चलते यह प्रस्तुतीकरण नहीं दे पाएं। इस कारण प्रस्तुतीकरण सीएम के समक्ष निकट भविष्य में पेश किये जाने का फैसला किया गया है।

Share