यूपी: हिंदुओं को मुसलमान बनाने वाले दो मौलाना गिरफ्तार, ATS का दावा, एक हजार हिंदुओं का किया धर्मांतरण

लखनऊ। यूपी एटीएस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। एटीएस ने सोमवार को झांसा देकर धर्मांतरण कराने वाले गिरोह के दो सदस्य काजी जहांगीर आलम और मोहम्मद उमर गौतम को दबोच लिया है। एटीएस का दावा है कि इस गैंग ने एक हजार से अधिक लोगों को धर्मांतरण करके मुस्लिम बनाया है। इस गिरोह को आईएसआई और कई अन्य देशों से पैसे मिलते थे।

प्रदेश के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि दोनों आरोपी मोहम्मद उमर गौतम और मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी दिल्ली के जामिया नगर इलाके के रहने वाले हैं। ये दोनों बीते काफी​ समय से यूपी में धर्मांतरण करा रहे थे। ये गिरोह गरीब हिंदुओं को अपने जाल में फंसाकर पैसे, नौकरी और शादी के नाम पर धर्मांतरण कराता था।

Gyan Dairy

आरोपियों ने अब तक एक हजार से ज्यादा हिंदुओं का धर्मांतरण कराया है। दोनों मौलाना अधिकांश मूक बधिर और महिलाओं का धर्म परिवर्तन करवाते थे। उमर और उसके साथियों द्वारा धर्म परिवर्तन के लिए IDC (Islamic Dawah Center) कार्यालय पता- C 2, जोगाबाई एक्सटेंशन, जामिया नगर, नई दिल्ली, नाम की संस्था चलाई जा रही थी। इस काम के लिए संस्था को भारी विदेशी फंडिंग भी होती थी। ये लोग धर्मांतरण से सम्बंधित प्रमाण पत्र और विवाह के प्रमाण पत्र भी गैर कानूनी रूप से तैयार करवाते थे।

Share