उत्तर प्रदेश: इटावा में श्रद्धालुओं से भरी डीसीएम पलटी, 11 लोगों की मौत

इटावा। उत्तर प्रदेश के इटावा में शनिवार को बड़ा हादसा हो गया। इटावा में बेटे के जन्म के बाद मंदिर जा रहे परिवार की डीसीएम हादसे का शिकार हो गई। आगरा-चकरनगर रोड पर हुए इस दर्दनाक हादसे में 11 श्रद्धालुओं की मौत हो गई। जबकि 30 से अधिक श्रद्धालु जख्मी हैं। आठ श्रद्धालुओं को सैफई मेडिकल कालेज रेफर किया है।

पुलिस के मुताबिक आगरा के खिड़किया, रामलीला ग्राउंड पिनाहट निवासी वीरेंद्र सिंह बघेल के घर पर सात माह पहले बेटे का जन्म हुआ था। बेटे के जन्म की खुशी में वह परिवार व रिश्तेदारों के साथ लखना कालका मंदिर में झंडा (नेजें) चढ़ाने के लिए शनिवार की सुबह 11 बजे बजे घर से डीसीएम में सवार होकर निकले थे। रास्ते में डीसीएम आगरा-चकरनगर रोड पर कसौआ गांव के सामने अनियंत्रित हो गई और सड़क के किनारे स्थित 20 फिट गहरी खाई में जाकर पलट गई।

डीसीएम पलटने से उसने सवार सभी महिला पुरुष श्रद्धालु दब गए और चीख पुकार मच गई। राहगीरों की सूचना पर पहुंची बढ़पुरा पुलिस ने जैसे-तैसे सभी को निकाला और आनन फानन में जिला अस्पताल भेजा। जिला अस्पताल पहुंचने पर डाक्टरों ने 11 श्रद्धालुओं को मृत घोषित कर दिया। अन्य 30 श्रद्धालुओं का इलाज किया जा रहा है। घटना से जिले में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी श्रद्धालुओं के गांव पहुंची तो बड़ी संख्या में लोग रोते बिलखते जिला अस्पताल पहुंचने लगे। पुलिस मरने वालों की शिनाख्त करने में जुटी है।

Gyan Dairy

 

Share