blog

उत्तर प्रदेश: राजधानी से बड़ी होगी नई रामनगरी, शहर के दायरे में आएंगे तीन जिलों के 343 गांव

उत्तर प्रदेश: राजधानी से बड़ी होगी नई रामनगरी, शहर के दायरे में आएंगे तीन जिलों के 343 गांव
Spread the love

लखनऊ। श्रीराममंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त होते ही साथ अयोध्या को विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की तैयारियां शुरू हो गईं हैं। प्रदेश की योगी सरकार ने नई अयोध्या बसाने की तैयारी कर ली है। इसके लिए अयोध्या विकास क्षेत्र का दायरा बढ़ाकर 872.81 वर्ग किमी करने की तैयारी है। यह प्रदेश की राजधानी लखनऊ के नगर निगम की सीमा 567.976 वर्ग किमी से काफी अधिक होगा। अयोध्या में आगामी रामनवमी से भव्य श्रीराम मंदिर का निर्माण शुरू होना है। इसके बाद यहां आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या लाखों में पहुंच जाएगी। इसको लेकर नई अयोध्या बनाने की तैयारियां चल रही हैं।

अयोध्या विकास प्राधिकरण ने अयोध्या विकास क्षेत्र में कुल 343 गांव को शामिल करने का प्रस्ताव किया गया है। इसमें अयोध्या के 154 गांव, गोंडा के 63 गांव और बस्ती के 126 गांवों के शामिल करते हुए नई अयोध्या विकास क्षेत्र बनाया जाएगा। इसके बाद अयोध्या विकास क्षेत्र का कुल क्षेत्रफल 87280.74 हेक्टेयर यानी 872.81 वर्ग किमी हो जाएगा।

इन गांवों के अयोध्या विकास क्षेत्र में शामिल होने के बाद यहां की आबादी वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर 8,73,373 हो जाएगी। गोंडा में आने वाले नवाबगंज पालिका परिषद और भदरसा नगर पंचायत भी अयोध्या विकास परिषद में शामिल होगा। नवाबगंज पालिका परिषद अयोध्या से बिल्कुल सटा हुआ है। यहां से अयोध्या की दूरी मात्र आधे घंटे में तय की जा सकती है।

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *