उत्तर प्रदेश: महिला इंस्पेक्टर की दबंगई का विरोध करने वाला चौकी इंचार्ज लाइन हाजिर

प्रयागराज। प्रयागराज में सिविल लाइंस लोक सेवा आयोग चौकी इंचार्ज विनोद कुमार दिनकर को डीआईजी ने लाइन हाजिर कर दिया है। चौकी इंचार्ज ने पिछले दिनों महिला थाना प्रभारी दीपा सिंह को फ्लैट पर कब्जा करने के कारण टोका था। इसके बाद दोनों के बीच नोक-झोंक का वीडियो वायरल हुआ था। इसके चलते चौकी इंचार्ज को डीआईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने लाइन हाजिर किया गया है।

बता दें कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय की रिटायर प्रोफेसर मंजुला जायसवाल ने महिला थाना प्रभारी दीपा सिंह को सिविल लाइन के अग्निपथ कॉलोनी स्थित अपना फ्लैट किराए पर दिया था। प्रोफेसर मंजुला जायसवाल एक साल से फ्लैट खाली कराने के लिए परेशान है। कुछ दिनों पहले वह फ्लैट पर पहुंची तो महिला थाना प्रभारी दीपा सिंह से उनका विवाद हो गया। फ्लैट से नीचे आकर प्रोफेसर मंजुला जायसवाल ने पुलिस को कॉल किया। इस सिविल लाइन से चौकी प्रभारी विनोद दिनकर फोर्स के साथ पहुंच गए। उधर से महिला थाना प्रभारी दीपा सिंह भी आ गई।

Gyan Dairy

फ्लैट खाली कराने को लेकर चौकी इंचार्ज और इंस्पेक्टर दीपा सिंह के बीच विवाद हो गया। चौकी इंचार्ज ने यह कह दिया कि फ्लैट ना खाली करके पुलिस विभाग की क्यों बदनामी कर आ रही है इसी पर और बात बढ़ गई। इस घटना के दौरान महिला थाना की पुलिस और सिविल लाइन थाने की पुलिस ने एक दूसरे का वीडियो बनाया। इस बीच इस वीडियो को सोशल मीडिया के मदद से वायरल करा दिया गया। वीडियो वायरल होने के बाद चौकी इंचार्ज के खिलाफ कार्रवाई की गई। बताया जा रहा है कि अनुशासनहीनता का आरोप चौकी इंचार्ज पर लगा है कि उसने अपने सीनियर महिला इंस्पेक्टर के साथ ठीक से बर्ताव नहीं किया।

Share