उत्तर-प्रदेश के युवा, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सपोर्ट में

उत्तर-प्रदेश के युवा, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सपोर्ट में है।

समर्थकों का साफ कहना है कि मुख्यमंत्री को मुलायम, शिवपाल या पार्टी की कोई जरूरत नहीं है। वह अकेले ही चुनाव जीतने में सक्षम हैं।  करीब 95 फीसदी लोग निर्विरोध रूप से अखिलेश यादव को बेहतर सीएम मानते हैं। प्रदेश का युवा मुलायम व शिवपाल से इतना खफा है कि वह उन्हें आगामी विधानसभा चुनाव में सबक सिखाने की बात तक करने लगा है।बड़ी संख्या में लोगों ने बताया कि अखिलेश यादव की सादगीपूर्ण और साफ सुथरी छवि, विकास वादी सोच के कारण ही वह सबकी पहली पसंद हैं। लोगों का मानना था कि पार्टी के अंदर परिस्थितियां अब ऐसी बन गई हैं कि चुनाव जीतने के बाद भी विरोधी उनको चैन से नहीं रहने देंगे। कुछ लोगों ने बताया कि वह शुरू से समाजवादी पार्टी के धुर समर्थक रहे हैं। लेकिन अभी हाल ही में सपा जो कुछ हुआ वह उससे काफी नाराज हैं। अधिकांश लोगों ने कहा कि अखिलेश भविष्य के प्रधानमंत्री हैं।
akhilesh_1735529f

Gyan Dairy

बातचीत में युवाओं ने कहा कि इस बार उत्तर-प्रदेश में किसी की पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं बनेगी। अपनी नीतियों के कारण सपा तीसरे नंबर पर रहेगी। बातचीत के आधार पर परिवार में मची कलह में सबसे ज्यादा फायदा भाजपा को होता दिख रहा है, वहीं मुस्लिम वोट बसपा खेमे की ओर रुख कर रहा है। परिवहन की बसों व सार्वजनिक स्थलों पर जनता से रायशुमारी की। लखनऊ से हरदोई जाते समय रास्ते में बहस इस कदर बढ़ गई कि लगभग 70 फीसदी पैसेंजर्स मुद्दे पर खुलकर अपनी राय देने लगे। किसी ने कहा अखिलेश को मुलायम शिवपाल काम नहीं करने दे रहे। कोई बोला अखिलेश को पार्टी से चुनाव लड़ना चाहिए।

Share