यमुना एक्सप्रेस वे हादसा: जिंदा जला पत्रकार मुरली मनोहर सरोज का परिवार, पत्नी का इलाज कराने जा रहे थे एम्स

लखनऊ। आगरा में यमुना एक्सप्रेस वे पर मंगलवार तड़के कंटेनर से टक्कर लगने के बाद एक कार अचानक आग लग गई। आग लगने से कार सवार पांच लोग जिंदा जल गए। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने काफी मशक्कत के बाद आग बुझाई। हालांकि तब तक कार सवार पत्रकार, उसकी पत्नी, सास, चचेरी बहन और ड्राईवर के कंकाल बचे हैं। बताया जा रहा है कि लखनऊ के पत्रकार मुरली मनोहर अपनी पत्नी सीमा के इलाज के लिए दिल्ली एम्स जा रहे थे। इसी दौरान हादसा हो गया।

आगरा पुलिस के मुताबिक मरने वालों में पत्रकार मुरली मनोहर सरोज 35 वर्ष पुत्र स्वर्गीय राम फल निवासी 283/63/32/2 तकिया प्रेमवती नगर गढ़ी कानोरा थाना आलमबाग, लखनऊ। उनकी पत्नी सीमा देवी उम्र करीब 32 वर्ष, निवासी 283/63/32/2 तकिया प्रेमवती नगर गढ़ी कानोरा थाना आलमबाग, लखनऊ। मुरली मनोहर की चचेरी बहन मंजू देवी पुत्री रामबरन निवासी बिशन दास पुर थाना गौरीगंज जनपद अमेठी। मुरली मनोहर सरोज की सास सिरताज 58 वर्ष पत्नी कमल किशोर निवासी 283/ 63/क/2 तकिया प्रेमवती नगर गढ़ी कनौरा थाना आलमबाग, लखनऊ और कार चालक संदीप पुत्र राजकुमार निवासी हाल पता- इलमास बाग अमर सिंह टिंबर स्टोर लखनऊ मूल निवासी गांव मिर्जापुर थाना औरास, उन्नाव की जलकर मौत हो गई।

Gyan Dairy

बताया जा रहा है कि हादसा मंगलवार तड़के साढ़े चार बजे हुआ। नागालैंड नंबर का एक कंटेनर गलत दिशा से आ रहा था तभी उसकी सामने आ रही कार से भीषण भिड़ंत हो गयी। टक्कर लगने से कार का ईधन टैंक फट गया और उसमे आग लग गयी। लखनऊ नंबर की कार स्विफ्ट डिजायर UP 32 KW- 6788 में सवार होकर सभी लोग दिल्ली जा रहे थे। पुलिस के मुताबिक किमी 160 पर खंदौली थाना क्षेत्र में कंटेनर चालक ने अचानक मोड़ दिया। कार तेज रफ्तार में थी। वह अनियंत्रित होकर कंटेनर के डीजल टैंक से जा टकराई। इसके बाद कार में भीषण आग लग गई। कार सवारों में चीख पुकार मच गई।

Share