योगी सरकार ने 210 माफियाओं की 766 करोड़ संपत्ति की जमींदोज, जानें किस किस पर कार्रवाई हुई

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार माफियाओं पर ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है। सरकार की कार्रवाई के दायरे में आये कुख्यात माफिया और गैंगेस्टर में पूर्व सांसद और, विधायक व पूर्व विधायक सहित कई जन प्रतिनिधि भी शामिल हैं। प्रशासन ने किसी का अवैध मकान, मॉल और गेस्ट हाउस गिराया गया तो किसी से कब्जा की गई करोड़ों की जमीन को खाली करा लिया। पूरे प्रदेश में हो रही ताबड़तोड़ कार्रवाई में अब तक 210 माफिया और गैंगेस्टरों पर शिकंजा कसा जा चुका है। इन माफियाओं को करीब 766 करोड़ से अधिक की आर्थिक चोट दी जा चुकी है।

प्रयागराज में पुलिस, प्रशासन और विकास प्राधिकरण ने पूर्व सांसद अतीक अहमद, उसके भाई पूर्व विधायक खालिद अजीम उर्फ अशरफ समेत कुल 23 लोगों के खिलाफ सरकारी जमीन को कब्जे से मुक्त कराने से लेकर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की है। अधिकारियों की मानें तो इस कार्रवाई में इन्हें करीब 300 करोड़ की आर्थिक चोट पहुंचाई जा चुकी है।

वहीं पूर्वांचल में विधायक मुख्तार अंसारी समेत 104 माफिया और उनके करीबियों के खिलाफ कार्रवाई कर मकान, जमीन, शस्त्र लाइसेंस समेत 103 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त की गई हैं। वहीं लखनऊ में मुख्तार अंसारी उसके बेटों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर करीब 100 करोड़ रुपये की सम्पत्ति ढहा दी गई और काफी सम्पत्ति कुर्क कर दी गई। मुख्तार को आर्थिक चोट पहुंचाने के लिये उसके भाई सांसद अफजाल अंसारी की सम्पत्ति को भी पुलिस ने अवैध घोषित कर दिया। यह सम्पत्ति अफजाल की पत्नी फरहत के नाम है। मुख्तार के बेहद करीब हरविन्दर उर्फ जुगनू की करीब ढाई करोड़ रुपये की सम्पत्ति कुर्क कर दी गई। इसमें कई लग्जरी वाहन भी थे। पीजीआई कोतवाली के हिस्ट्रीशीटर राम सिंह पर गैंगस्टर एक्ट के तहत 84 करोड़ रुपये की सम्पत्ति कुर्क कर उसका आर्थिक साम्राज्य पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया गया।

Gyan Dairy

अब तक हुई कार्रवाई 

प्रयागराज में पूर्व सांसद अतीक, पूर्व विधायक अशरफ समेत 23 के खिलाफ हुई कार्रवाई में 300 करोड़ की आर्थिक चोट। वाराणसी सहित पूर्वांचल के जिलों में 104 माफियाओं की 103 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई। लखनऊ में मुख्तार अंसारी उनके भाई समेत तीन के खिलाफ हुई बड़ी कार्रवाई में 186 करोड़ की चोट। कानपुर रेंज में 29 अपराधियों की 60.32 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई। गोरखपुर और देवरिया में चार माफियाओं की 33.10 करोड़ की संपत्ति कुर्क। बरेली और मुरादाबाद मंडल के नौ जिलों में 25 माफिया और गैंगेस्टर की 30 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 13 माफिया और गैंगेस्टर की आर्थिक रूप से कमर तोड़ 34.65 करोड़ की संपत्ति मुक्त और कुर्क की गई। ब्रज क्षेत्र में माफियाओं के खिलाफ हुई संपत्ति जब्तीकरण की कार्रवाई में नौ माफियाओं की 17.82 करोड़ रुपये की संपत्ति अब तक जब्त की जा चुकी है।

Share