आज खुद मुख्यमंत्री योगी के काफिले पर हो गया हमला, क्या उम्मीद करे आम आदमी

अब इसको क्या कहेंगे जब खुद मुख्यमंत्री योगी का काफिला ही नही सुरक्षित रह गया है, तब यूपी में आम आदमी क्या सोचे। मामला राजधानी के हसनगंज थानाक्षेत्र का है, जहां योगी के काफिले पर ही हमला हो गया। आज लविवि में हिंदी स्वराज दिवस कार्यक्रम में सीएम योगी बतौर मुख्यअतिथि बुलाये गए थे। वही कार्यक्रम में राज्यपाल रामनाईक भी मौजूद थे।

वही जब कुछ छात्र उन्हें काले झंडे दिखा रहे थे तभी कुछ लोगों ने इसका विरोध कर दिया। बस इतने में छात्र उग्र हो गए और सीएम के काफिले पर हमला बोल दिया। वही इस घटना से वहां हड़कंप मच गया। इस सनसनीखेज घटना के दौरान गुस्साए NSG कमांडो ने आरोपी छात्रों को जमकर पीटा।

कार्यक्रम में सीएम जैसे ही शाम 5:30 बजे लखनऊ विश्वविद्यालय गेट पर पहुंचे तो सीएम योगी की फ्लीट पर 10-12 समाजवादी छात्र सभा के कार्यकर्ता जिनमें युवक और युवतियां थीं। यह सभी काफिले के सामने कूद पड़े और काले झंडे दिखाने लगे।

Gyan Dairy

यही नही बल्कि घटना के बाद मौके पर मौजूद भारी संख्या में पुलिस बल ने लाठी चार्ज कर दिया। इससे वहां भगदड़ मच गई। वही पुलिस ने आरोपी छात्रों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक 8 उपद्रवियों को हिरासत में लिया गया है। आरोपी समाजवादी पार्टी छात्रसंघ के कार्यकर्ता बताये जा रहे हैं।

फिलहाल पुलिस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है।ईस घटनाक्रम में हसनगंज इंस्पेक्टर और महानगर इंस्पेक्टर की लापरवाही देखने को मिली। उन्होंने छात्रों को नजरअंदाज किया। प्रदर्शनकारी सीएम की गाड़ी के आगे भी लेट गए। प्रदर्शनकारी योगी तेरी तानाशाही नहीं चलेगी. योगी मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे। हालांकि ब्लैक कमांडो ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा और उन्हें पीटकर हटाया।

Share