पश्चिम बंगाल : राज्यपाल ने खोली ममता बनर्जी के झूठ की पोल, कहा-पहले ही दिया था बैठक के बॉयकाट का संकेत

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य की मुख्यमंत्री और टीएमसी मुखिया ममता बनर्जी के झूठ की पोल खोलकर रख दी है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने चक्रवात से नुकसान के जायजे को लेकर बुलाई गई पीएम मोदी की बैठक को लेकर ममता बनर्जी पर गलम बयानी का आरोप लगाया है। राज्यपाल ने मंगलवार को ट्वीट करके कहा कि ममता बनर्जी ने शुक्रवार को होने वाली मीटिंग से एक दिन पहले ही उन्हें मेसेज किया था। इस मीटिंग को लेकर ममता ने संकेत दिए थे कि यदि शुभेंदु अधिकारी को बैठक में बुलाया जाता है तो वह बैठक का बायकॉट कर सकती हैं।

राज्यपाल ने लिखा कि ‘झूठे बयानों से विवश होकर अब सीधा रिकॉर्ड रख रहा हूं। 27 मई को रात सवा 11 बजे ममता बनर्जी ने मुझे मेसेज किया कि क्या मैं बात कर सकती हूं, यह अर्जेंट है। इसके बाद फोन पर उन्होंने संकेत दिया कि वह और उनके अधिकारी पीएम नरेंद्र मोदी की मीटिंग का बायकॉट कर सकते हैं, यदि इसमें नेता विपक्ष शुभेंदु अधिकारी को भी बुलाया गया। ममता बनर्जी ने जनता की सेवा पर अहंकार को तरजीह दी।’

Gyan Dairy

बता दें कि पीएम मोदी ने बंगाल पहुंचने पर पहले हवाई सर्वे किया और फिर समीक्षा बैठक के लिए कलाईकुंडा पहुंचे थे। यहां सीएम ममता बनर्जी और राज्य के मुख्य सचिव 30 मिनट की देरी से पहुंचे। यही नहीं ममता बनर्जी कुछ ही देर रुकीं और पीएम नरेंद्र मोदी को चक्रवात से हुए नुकसान की रिपोर्ट देकर निकल गई थीं। उनके इस रवैये की तीखी आलोचना हुई थी और बीजेपी ने इसे संघीय व्यवस्था के खिलाफ बताया था।

Share