blog

पत्नी ने की पति की हत्या, वजह चौंका देगी

Spread the love

राजस्थान के अजमेर में एक महिला ने अवैध संबंधों में बाधा डाल रहे पति की हत्या कर दी। महिला के गांव में कई लोगों से संबंध थे।

पति  वैवाहिक जीवन की शुरुआत के 10 वर्षों तक  मजदूरी कर और पिछले 15 वर्षों से बकरियां चराकर परिवार की आजीविका चला रहा था। इसी अवधि में आरोपित पत्नी के ग्राम पिचोलिया में लोगों से अवैध संबंध हो गए।

थानाधिकारी कंवरपाल सिंह शेखावत के अनुसार मृतक धारसिंह का विवाह संतोषकंवर से करीब 25 वर्ष पूर्व हुआ और इनके  तीन पुत्रियां सुनीता, पूजा, अंकिता, दो पुत्र  दिनेशसिंह व दीपकसिंह हुए।

आरोपित पत्नी संतोषकंवर गत 22 मार्च को मजदूरी कर शाम 6 बजे घर लौटी तो पति धारसिंह ने पत्नी को चाय बनाने को  कहा, लेकिन पत्नी ने चाय बनाने से साफ इंकार कर दिया। तब पति डेयरी पर दूध देने चला गया।

उस खाट पर करीब 15 मिनट तक लेटे रही और जब पति मदहोश होकर नींद के आगोश में सो गया तो संतोष ने पति का गला दबाया व पति पर बैठ गई। इसके बाद आरोपित पत्नी ने पास ही पड़ा पत्थर पति के सिर पर दे मारा और पत्थर को पुन: उसी जगह व्यवस्थित रख दिया ताकि इस पर कोई शक ना कर सकें| पति की हत्या के बाद खून से सने हाथ उस पत्थर पर पोछ दिए और रिश्ते में जेठ लगने वाले पूनमसिंह के घर का दरवाजा खोलकर घर में आकर सो गई|

रात्रि 9 बजे पुत्र दिनेश को पति का ध्यान करने के लिए भेजा तब पति बाड़े के पिछवाड़े बने अमरुराम चौकीदार के खंडननुमा मकान में खाट पर लेटकर भजन गा रहा था। रात्रि करीब 9:30 बजे बच्चों के सो जाने पर निश्चित होकर बाड़े में आकर पति की खाट पर लेट गई|

हत्या की जानकारी मिलने पर पुलिस व ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंच गए लेकिन पत्नी अपने घर में निश्चित होकर काम में लगी रही| करीब एक डेढ़ घंटे की पुलिसिया तफ्तीश के बाद पत्नी ने सुहाग के लिए विधवा विलाप करते हुए रोना शुरु किया और पति के अंतिम संस्कार के बाद उसी दिन पत्नी ने खून से सने कपड़ें तीन बार साबुन लगाकर धोना कबूला।

दूसरे दिन सुबह जल्दी खून से सने हाथ व कपड़े धोकर खाना बनाना शुरु कर दिया और थोड़ी देर बाद अपने बड़े बेटे दिनेश को पिता का ध्यान करने के लिए भेजा। जब दिनेश ने वापस आकर बताया कि पिताजी को किसी ने मार दिया है। तब पत्नी अपने पति को देख कर वापस आकर खाना बनाने लग गई और अपने पुत्र को मामले की जानकारी देने के लिए अपनी जेठानी के पास भेज दिया।

हत्या करने का कारण :

पुलिस पड़ताल में आरोपित पत्नी संतोष ने बताया कि उसके गांव में कई लोगों से अवैध संबंध थे। जिसको लेकर उसका पति आए दिन शराब के नशे में उसके साथ लड़ाई झगड़ा करता रहता था।

हत्याकांड का खुलासा नही होने पर उद्देलित ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों ने जब जिला मुख्यालय पर करीब 400 लोगों की मौजूदगी में धरना प्रदर्शन कर हत्याकांड का राजफाश करने की मांग करने पहुंचे। तब आरोपित पत्नी ग्रामीणों के साथ लगातार जाती रही और इसके मासूम पुत्रों ने पिता के हत्यारों को पकड़ने व हत्याकांड का राजफाश करने के लिए थाना अधिकारी से लेकर जिला अधिकारी, प्रधानमंत्री तक पत्र प्रेषित किया।

रोजाना की माथापच्ची से छुटकारा पाने के लिए उसने पति की हत्या को अंजाम दे डाला। हत्या के बाद संतोष गुमराह करने के लिए अपने सभी तथाकथित प्रेमियों के नाम बारी-बारी पति की हत्या करने वालो में शामिल कर पुलिस को भ्रमित करती रही। लेकिन पुलिसिया पुछताछ में हत्याकांड का आख़िरकार 40 दिन बाद राजफाश हो गया.

पुलिस आरोपित पत्नी को बुधवार को न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लेगी| आरोपित पत्नी ने पुलिस पूछताछ में खुद के कई लोगों से अवैध संबंधों में रोड़े बन रहे पति को हमेशा के लिए रास्ते से हटाने की बात कबूलते हुए पति की हत्या का जुर्म स्वीकार किया|

You might also like