blog

कहीं आपका पैन नंबर भी तो नहीं हो गया डिएक्टिव, ऐसे चेक करें

Spread the love

केंद्र सरकार ने 11.44 लाख पैन कार्ड या तो बंद कर दिए गए हैं या निष्क्रिय कर दिए हैं. वित्त राज्य मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने मंगलवार को संसद में बताया था कि ऐसा उन मामलों में किया गया है जहां किसी व्यक्ति को एक से अधिक पैन कार्ड आवंटित कर दिए गए थे. इसके बाद कई लोगों के मन में ऐसी आशंकाएं हैं कि कहीं उनका भी पैन कार्ड तो बंद नहीं कर दिया गया.

सबसे पहले इनकम की वेबसाइट http://incometaxindiaefiling.gov.in/ पर लॉगिन कीजिए. लॉगिन के बाद ये विंडो खुलेगी.

गंगवार ने राज्यसभा में लिखित जवाब में बताया था, 27 जुलाई तक 11,44,211 ऐसे पैन की पहचान की गई जिनमें पाया गया कि किसी एक ही व्यक्ति को एक से अधिक पैन जारी कर दिए गए हैं, अब उन्हें या तो बंद कर दिया गया या निष्क्रिय कर दिया गया. उन्होंने कहा, पैन आवंटन का नियम है प्रति व्यक्ति एक पैन. वहीं, गंगवार ने यह भी बताया कि 27 जुलाई तक 1,566 फर्जी पैन की पहचान की गई.

इनकम टैक्स की साइट खुलने के बाद बाई ओर दिए लिंक Know Your PAN का विकल्प चुनें. जैसे ही Know Your PAN पर क्लिक करेंगे एक नई विंडो ओपन होगी. इसमें आप अपनी जानकारी भरे.

इस फॉर्म में आपको अपना मिडल नेम, सरनेम और फर्स्ट नेम भरना होगा. फॉर्म भरते समय इस बात का ध्यान जरूर रखें की जो जानकारी आपके पैन नंबर पर लिखी हो वही भरी जानी चाहिए. अगर सरनेम या मिडल नेम नहीं है तो उस कॉलम को भरने की जरूरत नहीं है. इसके अलावा फॉर्म में मोबाइल नंबर भी भरना होगा. मोबाइल नंबर भरने के बाद सब्मिट पर क्लिक करें. क्लिक करते ही फिर एक नई विंडो ओपन हो जाएगी. यहां अपने मोबाइल पर आए OTP नंबर को डालें और क्लिक का बटन दबाए.

सरकार करदाताओं से 31 अगस्त तक आधार को पैन से जोड़ने के लिए कहा है. 31 अगस्त तक आधार से पैन कार्ड लिंक नहीं होने पर रद्द कर दिया जएगा.

इसके बाद अगली विंडो में आपको खुद ही पता चल जाएगा कि आपना पैन कार्ड एक्टिव है या नहीं.

आयकर विभाग ने ट्वीट किया, करदाताओं को आ रही परेशानियों के मद्देजर, साल 2016-17 के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि बढ़ाकर पांच अगस्त कर दी गई है.

You might also like