ट्राई ने दिया सुझाव, 11 अंकों का हो सकता है आपका मोबाइल नंबर

नई दिल्ली। देश में दूरसंचार कम्पनियों की निगरानी करने वाली संस्था टेलिकॉम रेग्युलेटरी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने शुक्रवार को एक प्रस्ताव पेश किया, जिसके तहत देश में 11अंको के मोबाइल नंबर को इस्तेमाल करने का सुझाव दिया गया है। ट्राई का दावा है कि ऐसा होने से देश में मोबाइल नंबरों की क्षमता 1000 करोड़ हो जाएगी। ट्राई के मुताबिक 10 अंकों वाले मोबाइल नंबर को 11 अंकों वाले मोबाइल नंबर से बदलने पर देश में ज्यादा नंबर उपलब्ध हो पाएंगे।

अपने प्रस्ताव में संस्था ने कहा कि मोबाइल नंबर के पहला अंक अगर 9 रखा जाए तो 10 से 11 अंकों के मोबाइल नंबर पर स्विच होने से देश में कुल 10 बिलियन (1000 करोड़) नंबर्स की क्षमता हो जाएगी। ट्राई ने आगे कहा कि 70 प्रतिशत यूटिलाइजेशन और मौजूदा पॉलिसी के साथ 700 करोड़ कनेक्शन होने तक के लिए काफी है।
इसके अलावा ने एक नया नैशनल नंबरिंग प्लान को सुझाव भी दिया है, जिसे जल्द से जल्द से उपलब्ध कराना है। साथ ही ट्राई ने डॉन्गल्स के लिए इस्तेमाल होने वाले मोबाइल नंबर को 10 अंकों से बढ़ाकर 13 अंक करने की भी बात कही है।

Gyan Dairy
Share