अमेरिका और तिब्बत के बीच भागीदारी बढ़ने की संभावना प्रबल,चीन से बढ़ सकता है तनाव

अमेरिेका। छह दशकों में पहली बार सीटीए के अध्‍यक्ष लोबसांग सांगे ने अमेरिका के व्‍हाइट हाउस में प्रवेश किया है। अमेरिका द्वारा लोकतांत्रिक तरीके से चुनी गई सरकार के लिए एक ऐतिहासिक मान्यता है,जिसमें सीटीए के प्रवक्‍ता सागें को शनिवार को व्‍हाइट हाउस में आम‍ंत्रित किया गया है।

बता दें कि प‍िछले महीने संगे पहले सीटीए अध्यक्ष बने, जिन्हें औपचारिक रूप से तिब्बती मुद्दों के लिए सहायक सचिव और विशेष समन्वयक रॉबर्ट डेस्ट्रो से मिलने के लिए अमेरिकी विदेश विभाग में आमंत्रित किया था। अमेरिका के इस कदम से वाशिंगटन और बीजिंग के बीच दरार हो सकती है। चीन ने अमेरिका पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह क्षेत्र में अस्थिरता पैदा करने की सजिश के प्रयास में है। इसके पूर्व के सीटीए के प्रमुख को अमेरिकी विदेश विभाग और व्हाइट हाउस में आने से वंचित किया गया था। परन्तु संगे व्‍हाइट हाउस के अधिकारियों से मिले। सीटीए ने कहा कि यह अभूतपूर्व बैठक शायद अमेरिकी अधिकारियों के साथ सीटीए की भागीदारी के लिए एक आशावादी स्वर स्थापित करेगी और आने वाले वर्षों में अधिक औपचारिक हो जाएगी।

Gyan Dairy
Share