ईरान में चोरी छिपे घुसे 225 पाकिस्तानी निकाले गए, ये थी जाने की वजह

तेहरान। ईरान ने आतंकियों के शरणदाता पाकिस्तान के मुंह पर जोरदार तमाचा मारा है। ईरान ने पाकिस्तान के 225 नागरिकों को देश से निकाल दिया है। ईरान ने सोमवार को पाकिस्तानी नागरिकों को बलूचिस्तान के चगई जिले में ताफ्तान सीमा से वापस भेजा। इन पाकिस्तानी नागरिकों को अवैध रूप से ईरान में दाखिल होने का आरोप था। जिसके चलते उन्हें गिरफ्तार किया गया था।

ईरान के अधिकारियों ने पाकिस्तानी नागरिकों को लेविस फोर्स के हवाले कर दिया। ये पाकिस्तानी नागरिक अवैध रूप से ईरान में दाखिल हुए थे। इनके पास वैध यात्रा दस्तावेज न होने पर गिरफ्तार किया गया था। लेविस फोर्स ने निर्वासित पाकिस्तानियों को आगे की जांच के लिए संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) को सौंप दिया है। बता दें कि अभी पिछले हफ्ते ईरानी अधिकारियों ने अवैध रूप से सीमा पार करने के आरोप में 400 पाकिस्तानी नागरिकों को सीमा अधिकारियों को सौंपा था।

Gyan Dairy

इससे पहले अप्रैल में, ईरान ने चगाई जिले के उसी सीमावर्ती शहर के माध्यम से 203 पाकिस्तानियों को निर्वासित किया था। पाकिस्तानी हरियाली वाले चरागाहों की तलाश में तुर्की, ग्रीस और अन्य यूरोपीय देशों तक पहुंचने के प्रयास में अवैध रूप से सीमा पार करते हैं। बता दें कि ईरान और पाकिस्तान की सीमा ईरान के सिस्तान और बलूचिस्तान प्रांत से मिलती है। इसकी लंबाई 959 किलोमीटर (596 मील) है।

Share