चीन: दम्पति ने टू चिल्ड्रेन पॉलिसी का उल्लंघन पर पैदा किए 7 बच्चे, सरकार ने लगाया एक करोड़ का जुर्माना

बीजिंग। पड़ोसी देश चीन में सरकार ने टू चिल्ड्रेन पॉलिसी बना रखी है। ऐसे में जो दम्पति दो बच्चों से ज्यादा बच्चे पैदा करके नीति का उल्लंघन करते हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाती है। ऐसे ही एक दंपति पर चीनी सरकार ने एक करोड़ से अधिक का जुर्माना लगाया है। चीन की कम्यूनिस्ट सरकार सिर्फ दो बच्चे पैदा करने की अनुमति देती है। लेकिन एक चीनी दंपति ने सात बच्चों को जन्म दिया। उनका तर्क था कि उन्हें कभी अकेला न रहना पड़े। इस दंपति को नियम विरुद्ध जाकर इतने बच्चे पैदा करने के लिए सरकार को सामाजिक समर्थन शुल्क के तौर पर 155,000 डॉलर (एक करोड़ से अधिक रुपये) का भुगतान करना पड़ गया। ऐसा न करने पर उनके अतिरिक्त बच्चे सरकारी पहचान दस्तावेज प्राप्त नहीं कर सकते थे।

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की खबर के मुताबिक 34 वर्षीय चीनी व्यवसायी झांग रोंग्रॉन्ग और उसके 39 वर्षीय पति के पांच लड़के और दो लड़कियां हैं। इन बच्चों की उम्र एक से 14 वर्ष के बीच है। दो बच्चों से ज्यादा बच्चे होने पर इस दंपति एससीएमपी के हिसाब से भुगतान करना पड़ा है। झांग दक्षिण-पूर्व चीन के गुआंगडोंग प्रांत में स्किनकेयर, गहने और परिधान कंपनियां चलाती है। झांग ने पोस्ट के हवाले से कहा कि उसने यह कदम इसलिए उठाया क्योंकि वह कई बच्चे चाहती थीं ताकि उन्हें कभी अकेले न रहना पड़े।

झांग के मुताबिक, जब मेरे पति दूर की यात्राओं पर होते हैं और बड़े बच्चे भी पढ़ाई के लिए दूर चले जाते हैं, तब भी मेरे आस-पास मेरे अन्य बच्चे रहते हैं। इससे मुझे अकेलापन महसूस ही नहीं होता। मैंने सोचा कि जब मैं बूढ़ी हो जाऊंगी तो मेरे बच्चे मुझे अलग-अलग बैचों में देख सकते हैं। उसने पोस्ट को बताया कि उनका सातवां उनका अंतिम बच्चा होगा क्योंकि उसके पति की 2019 में पुरुष नसबंदी हुई थी।

Gyan Dairy

 

Share