विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पाकिस्तान को लगाई फटकार, कहा- अफगानिस्तान में तालीबान की मदद करना बंद करे

दुशांबे। भारत ने संघाई सहयोग संगठन के मंच से आतंकवाद के सबसे बड़े पोषक पाकिस्तान को जमकर लताड़ लगाई है। भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने तजाकिस्तान की राजधानी दुशांबे में आयोजित शंघाई सहयोग संगठन की बैठक में दुनिया से अफगानिस्तान के सहयोग की अपील की है। विदेश मंत्री ने कहा कि अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया जारी है। हम अफगान नागरिकों को झुकने नहीं दे सकते।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि शांति प्रक्रिया का अमल में आना बेहद जरूरी है। इसके साथ ही दोहा, इस्तांबुल और मॉस्कों में हुए समझौतों के आधार पर हमें आगे बढ़ना होगा। अफगानिस्तान का भविष्य उसके इतिहास जैसा नहीं हो सकता। अफगानिस्तान के मौजूदा हालातों के चलते हाल ही में भारत ने कंधार से अपने राजनयिकों को वापस बुलाया है। भारत का कहना है कि उसकी अफगानिस्तान में चल रही हिंसा पर पैनी नजर बनी हुई है।

Gyan Dairy

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने रूस, चीन जैसे देशों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत का हमेशा से यह मानना रहा है कि शांति प्रक्रिया अफगानिस्तान की लीडरशिप में और उनके ही द्वारा होनी चाहिए। पाकिस्तान के दखल और उसकी ओर से तालिबान के सहयोग को लेकर भारत और अफगानिस्तान दोनों ही चिंतित है। इस बयान से उन्होंने पाकिस्तान की ओर से तालिबान को मदद किए जाने पर भी निशाना साधा।

Share