हज को आने वाले सभी देशों के मुसलमानों का बिना भेदभाव के स्वागत किया जाएगा: सऊदी अरब

सऊदी अरब ने हज और उमरा से संबंधित अपने सैद्धांतिक रुख को दोहराते हुए कहा है कि हज और उमरा के पाक इबादत को अदा करने के लिए आने वाले सभी मुस्लिम देशों के निवासियों का बिना भेदभाव के सम्मान किया जायेगा।

पिछले दिनों सेवक हरमैन अल शरीफैन शाह सलमान बिन अब्दुल अजीज की अध्यक्षता में कैबिनेट की अहम बैठक हुई जिसमें फैसला किया गया कि सरकार सभी हज यात्रियों की बिना किसी भेदभाव के उनकी नागरिकता की सेवा जारी रखेगी।

बैठक के बाद  जारी एक बयान में कहा गया है कि हाजियों और उमरा करने वालों की सेवा करना सऊदी सरकार का धार्मिक कर्तव्य है। सऊदी सरकार और पूरे राष्ट्र हाजियों का सेवक है। हज और उमरा के क्रम में सऊदी अरब आने वाले सभी देशों के मुसलमानों को बिना भेदभाव स्वागत किया जाएगा। सरकार सभी देशों से आये हाजियों की सेवा, सुविधा और उनके राहत व् आराम और सुरक्षा के लिए सामग्री और सुविधाओं की आपूर्ति सुनिश्चित करेगा।

Gyan Dairy

इस मौके पर कहा गया है कि इस साल हज के अवसर पर ईरानी हज यात्री भी भाग लेंगे। पिछले साल ईरान ने समझौते पाने के बावजूद ईरानी आज़मीन को हज के लिए भेजने से इनकार कर दिया था।

सऊदी सरकार ने स्पष्ट किया है कि हज एक पवित्र आध्यात्मिक इबादत है। हज जैसे पाक फ़रीज़े को राजनीतिक रंग देना या उसमें अराजकता और अव्यवस्था फैलाने की कोशिश करना किसी सूरत में स्वीकार नहीं किया जाएगा।

Share