भारतीय मूल की सिरिषा बांडला जा रहीं अंतरिक्ष, वर्जिन गालाक्टिक स्पेसक्राफ्ट से होंगी रवाना

नई दिल्ली। कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स के बाद भारतीय मूल की एक और बेटी अंतरिक्ष जा रही है। इसके साथ ही सिरिषा बांडला 34 वर्ष अंतरिक्ष में जाने वाली भारतीय मूल की तीसरी महिला हैं। एरोनाटिकल इंजीनियर वर्जिन गालाक्टिक टेस्ट फ्लाइट से रवाना होंगी। मूलरूप से आंध्र प्रदेश के गुंटुर जिले में जन्मीं और अमेरिका के ह्यूस्टन, टेक्सास में पली बढ़ीं हैं। सिरिषा बांडला कंपनी के अरबपति संस्थापक सर रिचर्ड ब्रानसन और पांच अन्य के साथ वर्जिन गालाक्टिक स्पेसशिप से न्यू मैक्सिको से रवाना होंगी।

सिरिषा बांडाला ने ट्वीट करके बताया कि ”मैं बेहतरीन क्रू #Unity22 का हिस्सा होने और एक ऐसी कंपनी का में होने पर बेहद सम्मानित महसूस कर रही हूं, जिसका मिशन अंतरिक्ष सबके लिए उपलब्ध कराने का है।” वर्जिन गालाक्टिक पर बताए गए प्रोफाइल के मुताबिक, बांडाला अंतरिक्ष यात्री नंबर 004 होंगी और फ्लाइट में उनकी भूमिका रिसर्चर एक्सपीरियंस की होगी।

Gyan Dairy
Share