अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने पाकिस्तान को दिया 50 करोड़ डॉलर का कर्ज, कही ये बात

इस्लामाबाद। कोरोना संक्रमण और आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे पाकिस्तान के लिए अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) मसीहा बनकर आया है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने पाकिस्तान को 50 करोड़ अमेरिकी डॉलर का कर्ज मंजूर किया है। पाकिस्तान के लिए ये कर्ज संजीवनी से कम नहीं है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के एग्जीक्यूटिव बोर्ड की मंजूरी मिलने के बाद पाकिस्तान को 50 करोड़ अमेरिकी डॉलर का भुगतान होगा। आईएमएफ ने कहा कि पाकिस्तान को जल्द ही करीब दो अरब अमेरिकी डॉलर का कर्ज मिलेगा।

‘कोरोना संकट से जूझ रहे पाकिस्तान को इस कर्ज से अपने लोगों की आजीविका में सुधार लाने और अर्थव्यवस्था के लिए नीतियां बनाने में मदद मिलेगी। यह राहत आर्थिक गतिविधियों को गति देने के साथ-साथ ऋण में स्थिरता लाएगी। इससे पाकिस्तान में होने वाले विकास से लोगों को लाभ पहुंचेगा।’

Gyan Dairy

बता दें कि इमरान के सत्ता में आने के बाद पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। कोरोना महामारी, महंगाई, भ्रष्टाचार और आर्थिक समस्याओं से घिरे पाकिस्तान के लिए ये बड़ी राहत होगी। फाइनेंशियल एक्शन टॉस्क फोर्स (एफएटीएफ) में मामला चलने की वजह से उसे अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं से कर्ज मिलना करीब-करीब बंद हो गया है। ऐसे में आईएमएफ ने उसे एक बड़ी राहत दी है।

Share