इजरायल: पद से हटने के बाद भी प्रधानमंत्री आवास पर कब्जा जमाए हैं बेंजामिन नेतन्याहू, जानें पूरा मामला

येरूशलम । 12 सालों तक इजरायल के प्रधानमंत्री रहे बेंजामिन नेतन्याहू ने संसद में अपना बहुमत खो दिया है। इसके साथ ही नफ्ताली बेनेटे इजरायल के नए प्रधानमंत्री बन गए। पीएम पद से हटने के बाद बेंजामिन नेतन्याहू ने सरकारी आवास खाली नहीं किया है। इसको लेकर यहूदी देश में अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। येरूशलम में प्रधानमंत्री आवास के आसपास कभी-कभी आ रहे ट्रकों की पपराजी उत्सुकता से तस्वीरें लने लगते हैं। राजनीतिक कार्टूनिस्ट पूर्वी पीएम बेंजामिन नेतन्याहू, उनकी पत्नी सारा और बड़े बेटे याइर को अतिक्रमणकारी के रूप में चित्रित कर रहे हैं। नेतन्याहू 12 साल पुराने अपने आधिकारिक आवास को छोड़ने के अनिच्छुक हो सकते हैं।

अमेरिका की तरह यहां कोई निर्धारित समय नहीं है कि इरजाइल में प्रधानमंत्री के पद से विदाई के बाद कितने समय में आधिकारिक आवास को छोड़कर विजेता को देना है। अक्सर इसमें कई हफ्तों का समय लग सकता है। हालांकि, ऐसा नहीं है कि नेतन्याहूं के परिवार के पास कोई ठिकाना नहीं है। काइसारा में समुद्र किनारे स्थित उनका निजी आवास विकल्पों में से एक है। नेतन्याहू ने अपने उत्तराधिकारी नफ्ताली बेनेट पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए ‘फ्रॉड ऑफ सेंचुरी’ बताया है। उन्होंने सत्ता में आए गठबंधन को ‘खतरनाक लेफ्ट विंग’ सरकार भी बताया है। बेंजामिन अपनी भूमिका को संघर्ष करने वाले विपक्षी नेता के रूप में स्वीकार किया है।

Gyan Dairy
Share