कोरोना से डरा नॉर्थ कोरिया का तनाशाह किम जोंग उन? बिना अप्रूवल वैक्सीन खुद और परिवार को लगवाई

नॉर्थ कोरिया में कोरोना वायरस के प्रसार का सच दुनिया से छिपाते रहे तानाशाह किम जोंग उन संक्रमण से इस तरह डरे हुए हैं कि उन्होंने चीन से लेकर अपना, परिवार और बड़े अधिकारियों का टीकाकरण करवा लिया है। अमेरिका के एक विश्लेषक ने जापानी इंटेलिजेंस सूत्रों के हवाले से यह दावा किया है। हालांकि, चीन में कुछ वैक्सीन को इमर्जेंसी यूज के लिए अप्रूवल मिल चुका है, लेकिन अंतिम नतीजे आने अभी बाकी हैं।

वॉशिंगटन स्थित थिंक टैंक सेंटर फॉर नेशनल इंट्रेस्ट के नॉर्थ कोरिया एक्सपर्ट हैरी काजियानिस ने कहा कि किम, उनके परिवार के लोग और नॉर्थ कोरिया के बड़े अधिकारियों का टीकाकरण किया गया है। यह अभी स्पष्ट नहीं है कि किस कंपनी का टीका उन्हें दिया गया है और क्या यह सुरक्षित साबित हो चुका है।

एक ऑनलाइन ऑउटलेट में लिखे आर्टिकल में काजियानिस ने लिखा, ”किम जोंग उन, किम परिवार के बड़े अधिकारी और लीडरशिप नेटवर्क का पिछले दो-तीन सप्ताह में टीका लगाया गया है। चाइनीज सरकार ने इनके लिए वैक्सीन कैंडिडेट भेजा था।”

Gyan Dairy

अमेरिका के चिकित्सा वैज्ञानिक पीटर जे. होत्ज का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि कम से कम तीन चाइनीज कंपनियां कोरोना वायरस वैक्सीन डिवेलप कर रही हैं, जिनमें सिनोवैक बायोटेक लिमिटेड, कानसिनोबायो और चाइना नेशनल फार्माशूटकिल ग्रुप (सिनोफार्मा) शामिल हैं। सिनोफार्मा ने कहा कि कंपनी का टीका चीन में करीब 10 लाख लोगों को लगाया जा चुका है। हालांकि, किसी भी कंपनी ने फेज 3 के क्लीनिकल ट्रायल का नतीजा सामने नहीं रखा है।

चाइनीज विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने नॉर्थ कोरियाई तानाशाह का टीकाकरण करवाए जाने की रिपोर्ट्स की ना तो पुष्टि की ना ही इससे इनकार किया। प्रवक्ता ने कहा कि उन्होंने इसके बारे में नहीं सुना है। हालांकि, कुछ विशेषज्ञों ने आशंकार जाहिर की है कि किम एक ट्रायल के दौर से गुजर रहे वैक्सीन का इस्तेमाल करेंगे। कुछ एक्सपर्ट यह भी कह रहे हैं कि किम जोंग उन बीजिंग की बजाय यूरोपीय वैक्सीन को तरजीह देंगे।

Share