अब इंडोनेशिया ने खदेड़ा चीन का गश्ती जहाज, तनाव चरम पर

भारतीय सेना (Indian Army) द्वारा पैंगोग लेक के पास खदेड़े जाने के बाद पहले जापान (Japan) और अब इंडोनेशिया (Indonesia) ने भी चीनी सेना को तेवर दिखाना शुरू कर दिया है. इंडोनेशिया ने मंगलवार को अपने आर्थिक क्षेत्र में घुसे चीन (China) के एक गश्ती जहाज को खदेड़ दिया है.  जिसके बाद दोनों देशों में तनातनी चरम पर पहुंच गई है। चीन के पलटवार की आशंका को देखते हुए इंडोनेशियाई युद्धपोतों ने अपनी गश्त को तेज कर दिया है। वहीं, इस क्षेत्र के पास चीनी युद्धपोतों की गतिविधि भी रिकॉर्ड की गई है। इससे पहले जापान ने चीन की पनडुब्बी को अपने इलाके से खदेड़ा था।

इंडोनेशिया के मुताबिक मंगलवार सुबह चीन का एक गश्ती जहाज उसकी समुद्री सीमा में घुस आया था जिसे इंडोनेशियाई युद्धपोतों ने खदेड़ दिया था. जिसके बाद दोनों देशों में तनातनी चरम पर पहुंच गई है. चीन के पलटवार की आशंका को देखते हुए इंडोनेशियाई युद्धपोतों ने अपनी गश्त को तेज कर दिया है. इस घटना के बाद इंडोनेशिया के आस-पास के इलाके में चीनी युद्धपोतों की गतिविधि भी रिकॉर्ड की गई है. इससे पहले जापान ने चीन की पनडुब्बी को अपने इलाके से खदेड़ा था।

चीन और इंडोनेशिया के बीच नातुना द्वीप पर तनाव

बता दें कि इंडोनेशिया ने चीन के जहाज को नातुना द्वीप के पास से खदेड़ा है. यह क्षेत्र इंडोनेशिया के एक्सक्लूसिव इकनॉमी जोन में आता है. इंडोनेशियाई समुद्री सुरक्षा एजेंसी को चीन के जहाज 5204 के इंडोनेशियाई विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र में प्रवेश करने के बारे में पता शुक्रवार रात में चला था. इंडोनेशियाई समुद्री सुरक्षा एजेंसी के प्रमुख आन कुर्निया ने बताया कि जानकारी मिलने के बाद हमने अपने एक गश्ती जहाज को चीन के इस जहाज के पास भेजा. हालांकि तब तक ये लौट चुका था लेकिन मंगलवार सुबह ये एक बार फिर समुद्री सीमा में घुस आया था.

Gyan Dairy

इंडोनेशियाई जहाज और चीन के जहाज के बीच एक किलोमीटर की दूरी से इलाके पर दावे को लेकर बातचीत की गई. जिसके बाद इंडोनेशियाई जहाज ने चीनी जहाज को तुरंत वह इलाका छोड़ने को कहा था. हालांकि चीनी जहाज ने इस इलाके को अपने नाइन डैश लाइन के अंदर होने का दावा किया था. जिसके बाद से इंडोनेशियाई जहाज ने चीनी जहाज को खदेड़ दिया. नातुना द्वीप के पास चीनी झंडे वाले मछली पकड़ने की नौकाएं अक्सर देखी जाती हैं. चीनी सरकार समर्थित ये नौकाएं ड्रैगन के दावे को लेकर भेजी जाती हैं. जिनकी रखवाली करने के लिए चीनी पेट्रोल वेसल भी तैनात होते हैं.

साउथ चाइना सी में चीन की दादागिरी जारी

साउथ चाइना सी के 90 फीसदी हिस्से पर चीन अपना दावा करता है. इस समुद्र को लेकर उसका फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई और वियतनाम के साथ विवाद है. वहीं, पूर्वी चाइना सी में जापान के साथ चीन का द्वीपों को लेकर विवाद चरम पर है. हाल में ही अमेरिका ने साउथ चाइना सी पर चीन के दावे को खारिज कर दिया था. जुलाई के आखिरी में इंडोनेशिया ने नातुना द्वीप के पास ही बड़े पैमाने पर युद्धाभ्यास किया था. विशेषज्ञों के अनुसार, चीन से बढ़ती तनातनी के बीच इंडोनेशिया तेजी से अपनी क्षमता को बढ़ा रहा है. इस अभ्यास में 24 युद्धपोतों ने हिस्सा लिया था, जिसमें दो मिसाइल डिस्ट्रॉयर और चार एस्कॉर्ट वेसल थे. इस दौरान इंडोनेशियाई नौसेना ने समुद्र और जमीन पर हमले का अभ्यास किया था. इस द्वीप को चीन अपने क्षेत्र में दिखाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share