पाकिस्तान: आतंकी ने मलाला युसुफजई को दी फिर मारने की दी धमकी, घिरी इमरान सरकार

इस्लामाबाद। सबसे कम उम्र में नोबेल पुरस्कार विजेता बनी पाकिस्तान की मलाला यूसुफजई को एक बार फिर जान से मारने की धमकी मिली है। साल 2012 में में जिस आतंकी एहसानुल्लाह एहसान ने मलाला को गोली मारी थी उसी ने जेल से भागने के बाद फिर मलाला को धमकी दी है और कहा है कि इस बार वह बच नहीं पाएगी। आतंकी द्वारा धमकी देने के बाद मलाला यूसुफजई ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और सेना से तीखे सवाल किए हैं।

बता दें कि तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के पूर्व प्रवक्ता ने 9 साल पहले मलाला को गोली मारी थी। उस हमले में किसी तरह मलाला की जान बच गई थी। हाल ही में एहसानुल्ला ने ट्विटर पर लिखा कि ”अगली बार कोई गलती नहीं होगी।” ट्विटर ने बुधवार को आतंकी के ट्विटर अकाउंट को हमेशा के लिए सस्पेंड कर दिया।

सबसे कम उम्र की नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला ने ट्वीट किया, ”यह तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान का पूर्व प्रवक्ता है जिसने मुझ पर और अन्य कई निर्दोष लोगों पर हमले की जिम्मेदारी ली थी। अब लोगों को सोशल मीडिया पर धमकी दे रहा है। वह कैसे बच गया इमरान खान और पाक सेना।”

Gyan Dairy

अहसान पाकिस्तान की जेल से पिछले साल 11 जनवरी को भाग निकला था। इसको लेकर पाकिस्तान में काफी नाराजगी थी। विपक्षी दलों से लेकर अमेरिका तक ने इमरान खान सरकार और पाकिस्तान से सवाल पूछे थे। जनवरी 2020 में एहसान ने एक ऑडियो संदेश भी जारी किया था जिसमें उसने बताया था कि वजह जेल से भागने में सफल रहा है।

Share