FATF की ग्रे लिस्ट में ही रहेगा पाक, विदेश मंत्री कुरैशी ने लगाए गंभीर आरोप

इस्लामाबाद। आतंकवाद के वित्त पोषण और मनी लॉन्ड्रिंग की निगरानी करने वाली वैश्विक संस्था फाइनैंशल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में बरकरार रखा है। एफएटीएफ ने शनिवार को साफ कहा था कि हाफिद सईद और मसूद अजहर जैसे आतंकवादियों को शरण देने के चलते पाकिस्तान की सख्त निगरानी की जाएगी। एफएटीएफ के फैसले के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि कुछ विदेशी ताकतें देश पर तलवार लटकाए रखना चाहती हैं।

पाकिस्तान के विदेश के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान ने लगभग पूरे एक्शन प्लान को लागू कर दिया था और अब इसे ग्रे लिस्ट में रखने की जगह नहीं थी। कुरैशी ने कहा कि यह देखने की जरूरत है कि क्या एफएटीएफ का राजनीतिक उद्देश्यों से इस्तेमाल किया जा रहा है। पाक विदेश मंत्री ने कहा कि कुछ विदेशी ताकतें एफएटीएफ की तलवार पाकिस्तान पर लटकाए रखना चाहती हैं। कुरैशी ने कहा कि यह तय करने की जरूरत है कि एफएटीएफ टेक्निकल फोरम है या पॉलिटिकल।

Gyan Dairy
Share