अफगानिस्तान में पुलित्जर पुरस्कार विजेता भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, जानें पूरा मामला

नई दिल्ली। अमेरिकी सेना की वापसी शुरू होते ही अफगानिस्तान में तालीबान का आतंक बढ़ गया है। अब हिंसाग्रस्त कंधार में पुलित्जर पुरस्कार विजेता भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या कर दी गई है। अफगानिस्तान के राजदूत फरीद ममुंडजे ने शुक्रवार को बताया कि कंधार में गुरुवार को भारतीय फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की हत्या कर दी गई। कंधार में पत्रकार दानिश सिद्दीकी अफगान सुरक्षा बलों के साथ रिपोर्टिंग कर रहे थे। बता दें कि इससे पहले 13 जुलाई को भी भी दानिश पर हमला हुआ था। इस हमले वह बाल-बाल बच गए थे।

अफगानिस्तान के राजदूत फरीद ममुंडजे ने ट्वीट करके बताया कि ‘कल रात कंधार में एक दोस्त दानिश सिद्दीकी की हत्या की दुखद खबर से बहुत परेशान हूं। भारतीय पत्रकार और पुलित्जर पुरस्कार विजेता दानिश सिद्दीकी अफगान सुरक्षा बलों के साथ कवरेज कर रहे थे। मैं उनके काबुल जाने से पहले मिला था। उनके परिवार और रायटर के प्रति संवेदना।’

बताया जा रहा है कि दानिश सिद्दीकी की हत्या कंधार के स्पिन बोल्डक जिले में की गई थी। हालांकि, इसने घटना के बारे में और अधिक विवरण नहीं दिया। इससे पहले 13 जुलाई को हुए हवाई हमले में बचने के बाद दानिश ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी और कहा था कि वह भाग्यशाली थे कि बच गए।

Gyan Dairy

 

Share