डॉक्टर ने 12 साल पहले किया था हाथी इलाज, देखते ही पहचान गया बेजुबान, जानें क्या किया

थाईलैंड। कहते हैं कई बार जानवर इंसानों से ज्यादा संवेदनशील होता है। ऐसा ही थाइलैंड में देखने को मिला है। यहां एक हाथी ने बारह साल बाद भी उस चिकित्सक को पहचान लिया, जिसने गंभीर बीमारी की हालत में उसका इलाज किया था। सालों बाद दोनों की मुलाकात मार्च महीने में हुई। डॉक्टर पट्टारापोल मानेन को देखते ही हाथी ने उनका हाथ छूने के लिए अपनी सूढ़ को ऊपर उठाया। बताया जा रहा है कि साल 2009 में थेंग गंभीर रूप से बीमार हुआ था। प्लाय थेंग नाम का ये हाथी बीमारी की हालत में पूर्वी थाइलैंड के रायोंग इलाके में मिला था।

हाथी स्लीपिंग सिकनेस से पीड़ित था और मरने की कगार पर था। तब डॉक्टर पट्टारापोल मानेन ने हाथी का उपचार किया था। वह बुखार, भूख की कमी से जूझ रहा था। उसने पूरे चेहरे, पेट और गर्दन पर सूजन थी। वह एनीमिया से पीड़ित था। उसकी आंखें सूजी हुई थीं, पीठ और पैर सख्त हो गए थे। उसे इलाज के लिए राष्ट्रीय उद्यान, वन्यजीव और पादप संरक्षण विभाग के कर्मचारी लामलांग प्रांत के वन उद्योग संगठन के क्षेत्र में ले आए। बीमारी से ठीक होने के कुछ महीने बाद हाथी को छोड़ दिया गया।

Gyan Dairy

मार्च महीने की शुरुआत मे डॉक्टर मानेन इलाके में गश्ती कर रहे थे। उसी दौरान उन्होंने उस हाथी की आवाज को पहचान लिया, जिसका 12 साल पहले उन्होंने इलाज किया था। वह हाथी के पास गए और नजारा देखकर चौंक गए। उन्होंने देखा कि थेंग ने भी उन्हें पहचान लिया है और उनका स्वागत करने के लिए उसने बाकायदा अपनी सूंढ़ ऊपर उठाई। एक दशक बाद भी हाथी ने पहचान लिया यह देखकर डॉक्टर की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। डॉक्टर मानेनी के मुताबिक मुझे उसकी आवाज बहुत साफ-साफ सुनाई दे रही थी और वह बहुत ही अलग थी। हम दोनों ने ही एक-दूसरे को पहचान लिया और यह पल बहुत ही खास था।

Share