UA-128663252-1

अमेरिका में घुड़सवार पुलिस ने अश्वेत से किया अमानवीय व्यवहार, मांगा 10 लाख डॉलर हर्जाना

नई दिल्ली। अमेरिका में अश्वेतों के खिलाफ पुलिस की बर्बरता की घटनाएं दिनोंदिन बढ़ती जा रही हैं। अब टेक्‍सास शहर से एक फोटो वायरल हो रहा है, इस फोटो में घोड़ों पर सवार दो श्वेत पुलिसकर्मी एक अश्वेत व्यक्ति के हाथ रस्सी से बांधकर उसे पैदल ले जाते दिख रहे हैं।अब इस शख्‍स ने यह कहते हुए दक्षिणपूर्वी टेक्सास शहर और उसके पुलिस विभाग से 10 लाख डॉलर का हर्जाना मांगा कि गिरफ्तारी के दौरान उसे अपमान और भय का सामना करना पड़ा।

गलवेस्टन काउंटी जिला अदालत में पिछले हफ्ते डोनाल्ड नीली (44) की तरफ से दायर याचिका में आरोप लगाया गया कि अधिकारियों का आचरण अतिवादी और अपमानजनक था, जिससे नीली शारीरिक रूप से घायल हुए और भावनात्मक रूप से भी आहत हुए। अदालती दस्तावेजों का उल्लेख करते हुए मीडिया में आई खबरों में यह जानकारी दी गई। पुलिस की ओर से इस मामले में अभी कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।

बता दें कि यह मामला पिछले साल अगस्त का है और तस्वीरों में नीली को हथकड़ी से जुड़ी रस्सी पकड़े दो घुड़सवार पुलिस अधिकारी लेकर जा रहे हैं। यह तस्वीर गुलामों को जंजीर में जकड़ कर रखने की याद दिलाती है। घटना के समय बेघर नीली सड़क किनारे सो रहे थे, जब उन्हें आपराधिक अतिक्रमण के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। अधिकारियों की वर्दी पर लगे कैमरे में एक पुलिसकर्मी को दो बार यह कहते हुए सुना गया कि नीली को शहर की सड़कों पर रस्सियों से खींचकर ले जाना खराब दिखेगा। याचिका में कहा गया, ‘नीली को उस तरह प्रदर्शन के लिये रखा गया है, जैसे कभी गुलामों को रखा जाता था।

Gyan Dairy

गौरतलब है कि पिछले दिनों अमेरिका में 46 साल के अफ्रीकी मूल के अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी, जिसको लेकर कई शहरों में हिंसा हुई थी। इसके बाद कई शहरों में कर्फ्यू भी लगाना पड़ा था। हालांकि, हाल ही में जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के मामले में मुख्य आरोपित पुलिस अधिकारी को जमानत मिल गई है। कोर्ट के रिकॉर्ड के मुताबिक, बुधवार को आरोपित अमेरिकी पुलिस अधिकारी डेरेक चाउविन को दस लाख डॉलर के मुचलके पर रिहा कर दिया गया। बता दें कि अमेरिका के चुनावों में भी नस्लीय हिंसा बड़ा मुद्दा बना हुआ है।

Share