अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस बिना मास्क लगाए पहुंचे अस्पताल, हुई फजीहत

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा कहर अमेरिका पर टूटा है। कोरोना के चलते सुपर पावर की हालत बद से बदतर होती जा रही है। यहां संक्रमितों की संख्या बढ़कर 10 लाख के पार चली गई और 58,365 लोगों की मौत हो गई। इन सबके बीच अमेरिका के उप-राष्ट्रपति माइक पेंस ही अपनी सरकार के दिशानिर्देशों को तोड़ते नजर आए।

अमेरिकी उप राष्ट्रपति माइक पेंस मंगलवार को एक अस्पताल में बिना मास्क लगाए ही पहुंच गए, जबकि खुद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ही सभी को मास्क लगाने के निर्देश दिए हुए हैं। यहां तक कि अस्पताल के अपने नियम के मुताबिक आगंतुकों को पीपीई (व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण) लगाना जरुरी है। मिन्नेसोता के मायो क्लिनिक में पहुंचे पेंस अकेले ऐसे सख्स थे जिसने मास्क नहीं पहना था। क्लिनिक ने अपने एक ट्वीट (बाद में डिलीट कर दिया गया) में बताया कि उपराष्ट्रपति को आने से पहले ही अस्पताल की मास्क लगाने की पॉलिसी के बारे में बता दिया गया था।

Gyan Dairy

उप राष्ट्रपति पेंस खुद व्हाइट हाउस के कोरोना टास्कफाॅर्स का नेतृत्व भी कर रहे हैं। इसके बावजूद उन्होंने अपने फैसले का बचाव करते हुए कहा कि कर्मचारियों और मरीजों से मिलने के लिए यह जरुरी था। एक रिपोर्टर के मास्क ना पहनने के पीछे का कारण पूछने पर पेंस ने कहा कि उनके और उनकी टीम की रोजाना कोरोना जांच होती है।

Share