शनिवार को गलती से भी न करे ये काम, हो सकता है भारी नुकसान

नई दिल्ली। हिंदू धर्म में शनिवार को सूर्यपुत्र शनिदेव की पूजा की जाती है। शास्त्रों में शनिदेव को भाग्य संवारने वाला माना गया है। शनि की शांति के ऎसे कई उपाय हैं जिनके द्वारा मनुष्य के सारे कष्ट दूर होते हैं। शनिवार को खरीदारी करना तो अच्‍छा है लेकिन शनिदेव का दिन होने की वजह से इस दिन कुछ चीजों की खरीदारी से बचना चाहिए।

शनिवार के दिन लोहे से बनी चीजों का दान करने का विशेष महत्व माना गया है। लोहे का सामान दान करने से शनिदेव प्रसन्‍न होते हैं और व्यापार मुनाफा देने लगते है। शनिवार को लोहे का दान करें पर अपने घर-परिवार के लिए लोहे से बनी चीजों की खरीदारी से बचें।

शनिवार के दिन तेल का दान करना चाहिए और तेल खरीदने से बचना चाहिए। ज्योतिष के अनुसार , शनिवार को सरसों या किसी भी पदार्थ का तेल खरीदने से इंसान रोगों से ग्रस्‍त होने लगता है।

अगर खाने का स्‍वाद बढ़ाने वाला नमक खरीदना है तो बेहतर होगा शनिवार के बजाय किसी और दिन ही खरीदें. शनिवार को नमक खरीदने से कर्ज चढ़ने या फिर बढ़ने की संभावना रहती है।

शनिवार के दिन खरीदी गई कैंची रिश्तों में तनाव लाती है, इसलिए अगर आपको कैंची खरीदनी है तो शनिवार के अलावा किसी भी दिन खरीद सकते हैं।

Gyan Dairy

काले तिल चढ़ाने से शनिदेव प्रसन्‍न होते हैं और कई विपत्तियों से भी निकालते हैं लेकिेन इस दिन काले तिल खरीदने से कार्यों में बाधा आती है। शनिवार को काले तिल कभी न खरीदें।

अगर आपको काले रंग के जूते खरीदने हैं तो शनिवार को न खरीदें. मान्यता है कि शनिवार को खरीदे गए काले जूते पहनने वाले को कार्य में असफलता दिलाते हैं।

पढ़ाई-लिखाई से जुड़ी चीजें जैसे: कागज, पेन और इंक पॉट आदि खरीदने के लिए सबसे श्रेष्ठ दिन गुरुवार है. इसलिए शनिवार को स्याही न खरीदें। यह मनुष्य को अपयश का भागी बनाती है।

Share