नोट कागज़ का नहीं होता, जानिए भारतीय मुद्रा का इतिहास

पूरी दुनिया पैसे के पीछे भाग रही है हर कोई बस पैसा ही चाहता है लेकिन ऐसे बहुत कम लोग होंगे जिन्हें पैसे के इतिहास की जानकारी हो, तो आइये जानते हैं भारतीय मुद्रा के बारे में कुछ दिलचस्प बाते
1. नोट कागज़ का नहीं होता
लगभग सभी लोग यही समझते हैं की नोट कागज के होते हैं लेकिन असल में ये बात सही नहीं है नोट कॉटन (cotton) के मिश्रण का बना होता है यही कारण है की नोट भीगने पर गलता नहीं है जैसा की कागज गलता है

indiatv2db0fd_untitled-1

 

2. कभी रूपया मजबूत और डॉलर कमजोर हुआ करता था
आज 1 डॉलर लगभग 67 रुपये का है लेकिन 1947 में 1 डॉलर मात्र 3.30 रुपये का था और 1917 में 13 डॉलर 1 रुपये के बराबर थे.dollar-rupee33

 

3. 5000 और 10000 के नोट
भारत में पहले 5 और 10 हजार के नोट भी चला करते थे जिन्हें 1938 में बंद कर दिया गया था इसे 1954 में फिर से शुरु किया गया और 1974 में दुबारा बंद कर दिया गया.

origin_60b519f23373eec6d50537693e77aad0

 

4. पाकिस्तान में चलते थे भारतीय नोट
बटवारे के बाद पाकिस्तान में भारतीय नोट चलते थे जिन पर पाकिस्तान की मोहर लगी होती थी.1209082016043438

 

5. नेपाल में चलता है भारतीय रुपिया
आप नेपाल में भारतीय रुपये से कुछ भी खरीद सकते हैं मगर 500 और 1000 के नोट पर वहां पाबंदी है

500-banned-in-nepal

 

6. दस का सिक्का है महंगा
दस का एक सिक्का बनाने पर 6.10 रुपये का खर्च आता है

Gyan Dairy

10-rupees-2_1471946603

 

 

7. नोट के पीछे 15 भाषाएँ लिखी होती हैं
नोट पर कुल 17 भाषाएँ लिखी होती हैं हिंदी और English तो आपको सामने ही दिख जाएगी लेकिन पीछे 15 और भाषाएँ होती हैं वो भाषाएँ नीचे हैं.history-of-indian-currency_4

 

8. एक रूपए
एक का नोट वित्त मंत्रालय जारी करता है जिसपर सेक्रेटरी के हस्ताक्षर होते हैं.

1209082016043438

 

9. फटे नोट बैंक में बदल सकते हैं
नोट फट जाए तो चिंता मत करिए अगर आप के पास नोट का 51 % से ज्यादा हिस्सा है तो उसे आप किसी भी बैंक से बदल सकते हैं.

notes_1445715264

 

 

Share