इस अस्पताल में मरीज की कुंडली देखकर होता है इलाज, जानें वजह

नई दिल्ली। आज जीवन के हर क्षेत्र में विज्ञान काफी आगे निकल चुका है। चिकित्सा क्षेत्र में तो सारा कुछ विज्ञान और उपकरणों पर ही निर्भर है। हालांकि राजस्थान के जयपुर में एक ऐसा अस्पताल भी है जहां बीमारियों की जांच और इलाज कुंडली देखकर किया जाता है।

जयपुर के इस अस्पताल में मरीजों की बीमारी का पता लगाने के लिए ज्योतिष का सहारा लिया जाता है। हालांकि यहां पर अत्याधुनिक चिकित्सा की सारी व्यवस्थाएं मौजूद हैं। इस अस्पताल में बीमारियों के इलाज के लिए आयुर्वेद, योग, ज्योतिष और एलोपैथी हर तरह की सुविधा है। जयपुर का ‘यूनिक संगीता मेमोरियल अस्पताल’ अपनी इन्हीं खूबियों को लेकर चर्चा में है।

अस्पताल प्रशासन का दावा है कि मरीज की कुंडली देखकर बीमारी का पता लगाया जाता है। इसके बाद उसका इलाज किया जाता है। खास बात ये है कि यहां के मरीज भी इलाज से पूरी तरह संतुष्ट हैं। अस्पताल प्रबंधन के अनुसार प्रतिदिन करीब 30-40 मरीजों की कुंडली देखी जाती है। इससे उनकी बीमारी के बारे में सटीक पता लगाते हैं और इलाज शुरू किया जाता है।

Gyan Dairy

चिकित्सकों का कहना है कि यहां केवल बीमारी का पता लगाने के लिए ज्योतिष का सहारा लेते हैं। इलाज के लिए मेडिकल साइंस का रुख करते हैं। हम ऐसा इसलिए करते हैं ताकि बीमारी के बारे में सही-सही जानकारी जुटाई जा सके। डॉक्टरों का कहना है कि मरीजों को उपचार उन्नत प्रौद्योगिकी के आधार पर दिया जाता है और ज्योतिष को भी इलाज प्रक्रिया में शामिल किए जाने के कारण मरीज संतुष्ट होते हैं।

Share