मध्यप्रदेश: इस मंदिर के गर्भग्रह में मां काली के लिए चलती है AC, बिजली जाते ही मूर्ति से निकलता है पसीना

नई दिल्ली। आज से शारदीय नवरात्रि प्रारंभ हो चुके हैं। ऐसे में आज हम आपको आदिशक्ति से जुड़े अनोखे मंदिर के बारे में बताएंगे। भारत के प्राचीन मंदिरों में बहुत राज छिपे हैं। यहां जगह-जगह ऐसी चीजें देखने मिल जाती हैं, जिन्हें देखकर एक बार तो अपनी ही आंखों पर भरोसा नहीं होता। मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले में एक ऐसा ही स्थान है। जहां स्थित काली माई की प्रतिमा से पसीना निकलता है। इनके लिए भक्तों ने AC लगवा दिया है। जैसे ही एसी बंद होता है काली माई को फिर पसीना बहने लगता है।

जबलपुर शहर के सदर क्षेत्र में स्थित इस काली मंदिर में लगभग 550 साल पुरानी माता काली की भव्य प्रतिमा गोंडवाना साम्राज्य के दौरान स्थापित की गई थी। बताया जाता है कि स्वयंसिद्ध देवी की प्रतिमा को जरा सी भी गर्मी सहन नहीं होती और मूर्ति से पसीना निकलने लगता है। एसी बंद होते ही प्रतिमा से निकलती हुई पसीने की बूंदें स्पष्ट देखी जा सकती हैं।

Gyan Dairy

मंदिर ट्रस्ट के पंडित के मुताबिक रानी दुर्गावती के शासनकाल में मदनमहल पहाड़ी में निर्मित मंदिर में स्थापित करने के लिए शारदा देवी की प्रतिमा के साथ इस प्रतिमा को मंडला से जबलपुर लाया जा रहा था। उसी रात को काफिले में शामिल एक बच्ची को स्वप्न देकर देवी ने कहा कि उन्हें यहीं स्थापित कर दिया जाए। यहां मंदिर बनाया गया।

Share