खुशियां ही नहीं पिता की उम्र भी बढ़ा देती हैं बेटियां

नई दिल्ली। बेटियां हमेशा से ही अपने पिता की राजदुलारी रहीं है। एक पिता जितना स्नेह अपनी बेटी से रखता है, उतना शायद अपने बेटे से नहीं रख पाता। अब यह बात एक अध्ययन में भी साफ हो गई है। बेटियों के पिता उन लोगों के मुकाबले लंबी उम्र जीते हैं, जिनके यहां बेटियां नहीं होती।

पोलैंड की जेगीलोनियन यूनिवर्सिटी के अध्ययन में दावा किया गया है कि बेटा होने का पुरुष की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ता, लेकिन बेटी होने पर पिता की उम्र 74 हफ्ते बढ़ जाती है। पिता के यहां जितनी ज्यादा लड़कियां होती हैं, वे उतनी लंबी उम्र जीते हैं।

शोधकर्ताओं ने बच्चों का पिता की सेहत और उम्र पर असर जानने के लिए 4310 लोगों का डाटा लिया। इसमें 2147 माताएं और 2163 पिता थे। शोधकर्ताओं का दावा है कि यह अपनी तरह का पहला ऐसा शोध हैं। इससे पहले बच्चों के पैदा होने पर मां की सेहत और उम्र को लेकर कई अध्ययन किए जा चुके हैं।

Gyan Dairy

अध्ययन के मुताबिक, बेटियों की बजाय बेटों को प्राथमिकता देने वाले पिता अपर्नी जिंदगी के कुछ साल खुद ही कम कर लेते हैं। साथ ही शोधकर्ता ने कहा कि वह उन लोगों के लिए बेहद दुखी महसूस करते हैं जो बेटियों के बजाय बेटों को महत्व देते हैं।

Share