blog

सांपों का सेक्स समझ हैरान रह जाएंगे आप!

Spread the love

सेक्स दुनिया का सबसे पेचीदा मसला है. क़ुदरत ने इसमें इतने पेंच डाल दिए हैं कि इस बारे में जितना रिसर्च करो, उतना ही नयापन दिखता है. उतनी ही चौंकाने वाली बातें सामने आती हैं. हर जीव के साथ सेक्स का तरीक़ा, नज़रिया, मिथक बदलता जाता है. फिर वो चाहे इंसानों की बात हो, या सांपों की.

जीज़स रिवास अमरीका की मेक्सिको हाईलैंड्स यूनिवर्सिटी में सांपों के विशेषज्ञ हैं. अंग्रेज़ी में ऐसे जानकारों को हर्पीटोलॉजिस्ट कहते हैं.

हाल ही में जीज़स को दक्षिण अमरीका में पाए जाने वाले विशालकाय सांपों यानी अनाकोंडा की सेक्स लाइफ़ के बारे में अजीबोग़रीब बात पता चली.
अनाकोंडा में मादा, सेक्स के बाद नर को खा जाती है. पहले वैज्ञानिक ये समझते थे कि सांपों में सेक्स के दौरान मर्द हावी रहते हैं.

मादा सिर्फ़ नर सांप के इशारों पर नाचती है. मगर अनाकोंडा के बारे में इस जानकारी ने उन्हें चौंका दिया है. जीज़स बताती हैं कि सांपों के मेटिंग के बारे में ये सबसे ताज़ा चौंकाने वाली जानकारी है.

_96460498_c51a0ded-05a6-4323-a61e-6043142a5a54

 

दूसरी नस्ल के जानवरों में नर बड़े आकार के होते हैं. वो ताक़तवर होते हैं. लेकिन सांपों के मामले में इसका उल्टा होता है. इसीलिए कई बार सेक्स के बाद मादा सांप, नर को निगल जाती है. अनाकोंडा में मादा, कई बार तो नर से पांच गुना तक बड़ी होती है. ये उसके नर को आसानी से निगल जाने में मददगार होता है.

छिपकलियों, परिंदों और स्तनधारी जानवरों में नर आम तौर पर मादा से बड़े आकार के होते हैं. इसकी क़ुदरती वजह ये है कि शरीर के मादा के मुक़ाबले बड़ा होने पर उन्हें यौन संबंध बनाने के लिए साथी तलाशने में सहूलियत होती है.

लेकिन सांपों में नर के मादा से बड़े होने का फ़ायदा नहीं. सेक्स के लिए दूसरे नर सांपों से मुक़ाबले में अक्सर नर सांप अपनी पूंछ से दूसरे को धकेलकर मादा सांप के जननांग तक पहुंच हासिल कर लेते हैं. इसके लिए उन्हें मादा से बहुत बड़ा होने की ज़रूरत नहीं.

सेक्स की ख़्वाहिश मादा ही ज़ाहिर करती है

मादा सांप का विशाल होना ज़्यादा से ज़्यादा अंडे देने और बच्चे पैदा करने में मददगार होता है. इसीलिए छोटे नर सांप, सेक्स के साथी के तौर पर विशाल मादा सांप तलाशते हैं. मगर, सवाल ये उठता है कि सांपों को तो ठीक से दिखाई नहीं देता, ऐसे में वो यौन संबंध के लिए बड़ी मादा को कैसे तलाशते हैं?

रिसर्च से पता चला है कि सांपों में सेक्स की ख़्वाहिश जताने की पहल मादा करती है. जब मादा सांप सुप्तावस्था यानी सर्दियों या गर्मियों में हाइबरनेशन से बाहर आती है, तो वो केंचुल छोड़ती है.

इसके बाद वो फेरोमॉन नाम के हॉर्मोन छोड़ती है. इसी की मदद से नर सांप उसकी तरफ़ खिंचे चले आते हैं. इन हॉर्मोन की मदद से नर सांप, मादा के आकार के बारे में भी पता लगा लेते हैं.

सांपों के ब्रीडिंग सीज़न में मादा जितनी ही बड़ी होगी, उसके शरीर से उतने ही ज़्यादा केमिकल रिलीज़ होंगे. इनका पीछा करते हुए नर सांप उन तक सेक्स करने पहुंचते हैं. ऐसा नहीं है कि नर सांप, छोटे आकार की मादा को लुभाने की कोशिश नहीं करते.

मगर ऐसा होता बहुत कम है. और इस दौरान अगर कोई बड़े आकार की मादा आस-पास हुई, तो नर सांप झट से पाला बदल लेते हैं. सांपों के बारे में आम तौर पर माना जाता है कि नर सांप, एक साथ कई मादा से ताल्लुक़ बनाते हैं. मगर नए रिसर्च इसके उलट नतीजों के साथ सामने आए हैं.

किसी ख़ास मादा के पीछे पड़ जाते हैं अनाकोंडा

ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ वोल्वरहैंपटन के मार्क ओ’शिया ने पाया कि मलयेशिया में पाया जाने वाला पैराडाइज़ फ्लाइंग स्नेक इसके उलट बर्ताव करता है. यहां कई नर एक मादा का पीछा करते हैं.

एक मादा के पीछे सौ-सौ नर सांप

कनाडा में पाए जाने वाले गार्टर स्नेक के बीच तो और भी भयंकर मुक़ाबला होता है. यहां तो एक मादा के पीछे सौ-सौ नर सांप पड़ जाते हैं. वो उसके इर्द-गिर्द लिपटे रहते हैं, कनाडा के मैनिटोबा के जंगलों में सांपो के मेटिंग सीज़न में ये मंज़र बेहद आम होता है.

हालांकि सांपों की ये नस्ल अमरीका के दूसरे हिस्सों में ऐसा नहीं करती. यानी इलाक़े के हिसाब से सांपों के सेक्स करने का बर्ताव बदल जाता है. जैसे कि न्यू मेक्सिको में पाए जाने वाले गार्टर स्नेक ऐसा नहीं करते.

सांपों के इस ‘स्वयंवर’ में मादा ही अपना सेक्स साथी चुनती है. मादा ही अपने यौन अंग से सेक्स की पूरी प्रक्रिया को कंट्रोल करती है. वो यौन संबंध का साथी चुनने के साथ-साथ ये भी तय करती है कि सेक्स की प्रक्रिया कितनी देर चलेगी.

You might also like