UA-128663252-1

जर्मनी में हिटलर की महत्वाकांछा की याद दिलाता है ये सुनसान होटल

नई दिल्ली। दुनिया में बहुत सारी चीजें ऐसी हैं, जो किसी वजह से अधूरी रह गई। ऐसा ही एक निर्माण जर्मनी में भी है जो पूरी तरह से सुनसान पड़ा है। जर्मनी के बाल्टिक सागर के आइलैंड पर 10,000 बेडरूम का होटल बीते कई दशकों से सुनसान पड़ा हुआ है। अब एक भी आदमी इधर का रूख नहीं करता। इस होटल का निर्माण हिटलर के नाजी शासन के दौरान साल 1936 से 1939 के बीच में करवाया था।

जानकारी के मुताबिक इस होटल को बनाने में 9000 मजदूरों को तीन साल लगे थे। इसमें एक जैसी 8 बिल्डिंग बनाई गई थीं। हर बिल्डिंग की लंबाई 4.5 किलोमीटर है। यह बिल्डिंग समुद्र से 150 मीटर दूर है। दरअसल जर्मनी का तानाशाह शासक एडोल्फ हिटलर इसमें घुमावदार सी रिसोर्ट बनाना चाहता था,जो विश्व में सबसे बड़ा हो। हिटलर का यह महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट पूरा होता इससे पहले ही द्वितीय विश्वयुद्ध शुरू हो गया। आज भी यह बिल्डिंग काफी खूबसूरत है, हालांकि इसके कुछ ब्लॉकों को छोडक़र बाकी खंडहर हो गए हैं।

Gyan Dairy
Share