ये है नर्क (Hell) का दरवाज़ा, यहां से कोई जिंदा नहीं लौटता

नई दिल्ली। दुनिया के लगभग सभी धर्मों में स्वर्ग और नरक (Hell) का विवरण मिलता है। माना जाता है कि अच्छे लोग मृत्यु के बाद स्वर्ग जाते हैं, वहीं बुरे लोग मृत्यु के बाद नर्क जाती हैं। हम आज हम आपको आज जिस मंदिर के बारे में बता रहे हैं उसे नर्क का दरवाजा कहा जाता है। यहां के स्थानीय लोगों का दावा है कि जो एक बार इस दरवाज़े में प्रवेश करता है वो कभी वापस नहीं आता।

इस रहस्यमयी दरवाजे के अंदर जाने के बाद सिर्फ इंसान ही नहीं बल्कि पशु-पक्षी तक मर जाते हैं। यह जगह प्राचीन ग्रीक रोमन साम्राज्य के हीरापोलिस शहर में है। जो वर्तमान में यह शहर दक्षिण पश्चिम टर्की के पमुक्कल शहर के नाम से जाना जाता है। बता दें कि, प्लूटो देवता के नाम पर जानवरों को मरने के लिए इस गुफा में डाल दिया जाता था और लोग इन जानवरों के मरने का तमाशा देखते थे। यहां के लोगों का दावा है कि लोगों और जानवरों की मौतें यूनानी देवता की जहरीली सांसों की वजह से हो रही है। यहां धार्मिक क्रियाकलापों के नाम पर जानवरों को मरने के लिए डाल दिया जाता था। इस क्रिया को प्लूटोनियम कहा जाता था। हालांकि अब वैज्ञानिकों ने इसकी खोज कर ली है और उसके बाद यहां हो रही मौतों के पीछे की गुत्थी सुलझा ली गई है। उनका कहना था कि इसके पीछे मंदिर के नीचे से लगातार रिसकर बाहर निकल रही कार्बन डाई ऑक्साइड गैस है।

Gyan Dairy
Share