ये है दुनिया की सबसे बड़ी Book, 6 लोग मिलकर पलटते हैं पेज

नई दिल्ली।दुनिया में किताब (Book) पढ़ने के शौकीन बहुत सारे लोग हैं। कुछ लोग सिर्फ टाइम पास करने के लिए किताब पढ़ते हैं। वहीं कुछ लोग सफलता पाने के लिए। लेकिन क्या आप ने कभी ऐसी किताब का नाम सुना है जिसके पन्ने पलटने के लिए आधा दर्जन लोग मशक्कत करते हैं।

दरअसल, उत्तरी हंगरी के छोटे से गांव सिनपेत्री के रहने वाले बेला वर्गा ने अपने हाथों से दुनिया की सबसे बड़ी किताब बनाई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक दुनिया की सबसे बड़ी किताब को बनाने के लिए 71 साल के बेला ने बाइंडिंग तकनीक का इस्तेमाल कर बनाया है।

इसके साथ ही बाइडिंग तकनीक से बनाई गई इस किताब 4.18 मीटर लंबी और 3.77 मीटर चौड़ी है जिसमें कुल 346 पेज हैं। इसका कुल वजन 1420 किलोग्राम है। बताया जा रहा है कि किताब में वातावरण, गुफाओं, भूभाग की संरचना के बारे में जानकारी दी गई है। इस किताब की चर्चा इसलिए ज्यादा हो रही है क्योंकि इसे बाइडिंग तकनीक से बनाया गया हैं।

किताब इस क्षेत्र के बारे में जानकारी देने वाली अन्य किताबों से अलग है। बेला ने इसमें लकड़ी की टेबल और अर्जेटीना से मंगाए गए गाय के चमड़े का भी इस्तेमाल किया है।

Gyan Dairy

यह किताब इतनी भारी-भरकम है कि इसके पेज को पलटने के लिए 6 लोग लगते हैं। ये लोग एक मशीन से इस काम को अंजाम दे पाते हैं। इसके साथ ही किताब (Book) की एक छोटी कॉपी भी तैयार की गई है, ताकि किताब का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज हो सकें।

इस छोटी किताब का कुल वजन 11 किलोग्राम है। दोनों किताबों को एक साथ तैयार किया था। बेला अपनी किताब से धूल को हटाने के लिए याक की पूंछ का इस्तेमाल करते है। उन्हें ये पूंछ भूटान के प्रधानमंत्री से भेंट के रूप में मिली है। भूटान के बौद्ध भिक्षु पवित्र किताबों को साफ करने के लिए याक की पूंछ का इस्तेमाल करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share