हथेली पर मौजूद यह रेखा आपको बनाती है मालामाल, जानिए प्रभाव

नई दिल्ली। ज्योतिष के अनुसार सूर्य अगर अगर राशि में प्रबल या कमजोर हो तो जातकों पर इसका गहरा प्रभाव पड़ता है। ठीक उसी तरह हस्‍तरेखा शास्‍त्र में भी सूर्य रेखा को विशेष महत्‍व द‍िया गया है। कहा जाता है कि हथेली पर इस रेखा की स्थिति से कोई भी राजा या रंक बन सकता है। आइए जानते हैं हथेली पर सूर्य रेखा की कौन सी स्थिति का जीवन पर कैसा प्रभाव पड़ता है?

हस्‍तरेखा शास्‍त्र के अनुसार सूर्य रेखा रिंग फिंगर के नीचे होती है। इसे ही सूर्य पर्वत कहा जाता है। मान्‍यता है कि अगर यह बिल्‍कुल साफ हो। यानी कि इस पर किसी तरह का कोई क्रास या रेखा कटी-फटी न हो। तो यह व्‍यक्ति को काफी ऊंचाई तक ले जाता है। हस्‍तरेखा शास्‍त्र के मुताबिक सूर्य पर्वत की यह स्थिति व्‍यक्ति को शासन-प्रशासन में व‍िशेष पद का लाभ दिलाती है। साथ ही बिजनस के क्षेत्र में भी बड़ा नाम होता है। इसके अलावा अगर सूर्य पर्वत पर त्रिभुज बना हो, तो भी उच्च पद, प्रतिष्ठा और प्रशासनिक लाभ की प्राप्ति होती है।

हस्‍तरेखा शास्‍त्र के अनुसार सूर्य रेखा अगर ज्‍यादा मोटी हो। या फिर टूटी हो तो यह व्‍यक्ति के स्‍वभाव को दर्शाता है। कहा जाता है कि सूर्य रेखा की ऐसी स्थिति व्‍यक्ति को कंजूस, व‍िचार शून्‍य, स्‍वार्थी और घमंडी बनाती है। इसके अलावा अगर सूर्य रेखा शन‍ि पर्वत की ओर झुकी हो तो यह जातक को ज‍ज या फिर सक्‍सेसफुल वकील बनाती है। वहीं अगर सूर्य पर्वत पर कई सारी कटी-पिटी आपस में क्रॉस करती हुई रेखाएं हों। तो कहा जाता है कि ऐसे व्‍यक्ति अपराधी प्रवृत्ति के होते हैं।

हस्‍तरेखा शास्‍त्र के मुताबिक अगर किसी की हथेली पर सूर्य और शुक्र पर्वत उठे हुए हैं तो यह शुभ माना जाता है। कहा जाता है कि ऐसे व्‍यक्ति धनवान, परोपकारी, सफल प्रशासक और सौंदर्य के धनी होते हैं। इसके अलावा ये काफी आरामदायक जिंदगी जीना पसंद करते हैं। ऑपोजिट सेक्‍स पर इनका गहरा प्रभाव पड़ता है। प्रेम संबंधों को लेकर ये काफी सजग होते हैं।

Gyan Dairy

हस्‍तरेखा शास्‍त्र के मुताबिक किसी व्‍यक्ति के सूर्य पर्वत पर जाली हो तो कई बार यह उसके लिए शुभ साबित हो सकता है। क्‍योंकि ऐसे लोग किसी पर विश्‍वास नहीं करते। ये अपने कार्यों को बिना पूरे किए हुए किसी के साथ शेयर भी नहीं करते। अमूमन ही यह उनकी सफलता का बड़ा कारण होता है। इसके अलावा अगर सूर्य पर्वत पर स्‍टार का साइन बना हो तो यह उसे अप्रत्‍याशित लाभ दिलाती है।

हस्‍तरेखा शास्‍त्र के मुताबिक अगर किसी की हथेली पर सूर्य और बुध पर्वत एक साथ मिलते हुए हों। तो यह शुभ संकेत होता है। कहा जाता है कि यह स्थिति जातक को महान वक्‍ता, सक्‍सेसफुल बिजनसमैन या फिर उच्‍च प्रशासन‍िक पद का लाभ दिलाती है। यह भी कहा जाता है कि ऐसे व्यक्तियों को अथाह पैसा कमाने की चाहत होती है। वहीं यदि हथेली में सूर्य पर्वत के साथ बृहस्पति पर्वत भी बिल्‍कुल क्लियर हो। तो ऐसे जातक व‍िद्वान, मेधावी और धार्मिक विचारों वाले होते हैं।

Share